बीजेपी नेता दुष्यंत कुमार गौतम के विवादित बोल पर कांग्रेस का पलटवार ,जानें पूरा मामला

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री और उत्तराखंड के प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम ने कांग्रेसियों को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी मंदिरों में लड़कियां छेड़ने जाते हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री और उत्तराखंड के प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम ने कांग्रेसियों को लेकर विवादित बयान दिया है। पार्टी मुख्यालय में मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि कांग्रेसी मंदिरों में लड़कियां छेड़ने जाते हैं। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार का प्रयोग कांग्रेसी चाहते हैं, उससे हमें कोई दुख नहीं है, पर दुख उनकी विचारधारा से है। कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम के बयान को लेकर तीखा पलटवार किया।

कांग्रेस सनातन धर्म का विरोध करती है व उसके कार्यकर्ता मंदिरों में लड़की छेड़ने जाते हैं। बकौल गौतम-कांग्रेस तो यहां तक कहती है कि भगवान राम थे ही नहीं। अब वे उसी परिपाटी का अध्यक्ष ढूंढने की कोशिश कर रहे हैं, जो कहते हैं कि सनातन धर्म आ जाएगा तो देश के अंदर हाहाकार मच जाएगा।  हिन्दुत्व बढ़ जाएगा। 

बेटे पर फेल तो चुनाव का खेल: कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव के सवाल पर गौतम ने इशारों में कहा कि बेटे पर नाकाम हो चुके हैं इसलिए अब प्रयोग करने की कोशिश कर रहे है। हालांकि पहले एक प्रयोग सीताराम केसरी जी के रूप में हुआ था। बाद में उनकी क्या दुर्गति हुई, यह सब जानते हैं। केसरी जी के निधन के बाद उनके शव को कांग्रेस के राष्ट्रीय कार्यालय में नहीं आने दिया। गौतम बोले-कांग्रेस हाईकमान कह रहा है कि अब 22 वर्ष बाद हो रहे चुनाव से खुशी हो रही है, यदि ऐसा ही है तो बीच की अवधि में चुनाव क्यों नही कराया गया? 

सीएम उठा रहे बड़ा कदम : गौतम ने कहा कि राज्य में बड़े घटनाक्रमों पर बड़ेकदम उठाने के लिए वे मुख्यमंत्री पुष्कर धामी का तहेदिल से धन्यवाद करते हैं। अंकिता हत्याकांड दुखदायी था। एक बेटी के साथ ऐसा नहीं होना चाहिए था,पर सरकार ने बिना देरी किए एसआईटी बनाई और लगातार कार्रवाई की। भर्ती घोटाले में भी सख्त एक्शन लिया। दोषियों, अपराधियों व आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया जा रहा है।

हालांकि हरीश रावत जी से पूछेंगे तो उनका अलग दुख होगा। पहले जो होता रहा है,उस पर धामी सरकार ने रोक लगाई है। गौतम ने कहा कि हमारी सरकार ने पूरी तरह पारदर्शिता बरती है। उन्होंने केदारनाथ हेलीकाप्टर हादसे पर दुख भी जताया। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट, प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर चौहान भी मौजूद रहे। 

कार्यकर्ताओं से बेहतर समन्वय बनाएं : इससे पूर्व गौतम ने संगठन की मजूबती को लेकर पार्टी पदाधिकारियों के साथ चर्चा की। मंगलवार को दून पहुंचने के बाद गौतम ने पार्टी मुख्यालय में प्रदेश संगठन और मोर्चों के नवनियुक्त पदाधिकारियों का परिचय लिया। इस दौरान उन्होंने संगठन को बूथस्तर तक मजबूत करने के लिए आपसी संवाद और समन्वय को बेहतर बनाने को कहा।

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने उन्हें संगठन की गतिविधियों की जानकारी दी। इस दौरान प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय कुमार, महामंत्री खिलेंद्र चौधरी आदि भी मौजूद रहे। संचालन महामंत्री राजेंद्र बिष्ट ने किया। गौतम बुधवार को सीएम की अध्यक्षता में कैबिनेट मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। इस दौरान वह अब तक के विकास कार्यों के बारे में फीडबैक लेंगे।  

महिला उत्पीड़न के पीछे संघ और भाजपा के नेता :माहरा
कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम के बयान को लेकर तीखा पलटवार किया। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि कांग्रेसियों पर युवतियों से अभद्रता का आरोप लगाने से पहले भाजपा नेताओं को खुद के गिरेहबान में झांक लेना चाहिए कि वहां कितनी गंदगी है।

बीते कुछ वर्षों में भाजपा-संघ के कई नेताओं-विधायकों द्वारा महिलाओं के उत्पीड़न की खबरें सुर्खियां बनती आ रही हैं। अंकिता भंडारी हत्याकांड में सूत्रधार कौन हैं, ये भी किसी से छिपा नहीं है। माहरा ने भाजपा पर पलटवार किया। उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वालों से बेटियों को बचाने की नौबत आ चुकी है। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि गौतम ने कांग्रेस पर सनातन धर्म विरोधी, मंदिरों में अभद्रता करने जाने व भगवान राम के अस्तित्व को नकारने का आरोप लगाया है।

हकीकत यह है कि यह सब दाग इस वक्त भाजपा के चेहरे पर ही लगे हुए हैं। वास्तविकता तो यह है कि सही मायने में कांग्रेस ही सनातन धर्म की भावना को आत्मसात करती है और सर्वे भवंतु सुखिन:-वसुधैव कुटुंबकम् की बात करती है। दूसरी ओर भाजपा ने देशभर में धर्म का सिर्फ व्यापार किया और धर्म तथा जात-पात के नाम पर जहर फैलाते हुए अपनी राजनीतिक रोटियां ही सेंकी हैं। 

माहरा ने कहा कि प्रदेश प्रभारी जैसे जिम्मेदारी भरे पद पर आसीन व्यक्ति से अधिक बुद्धिमत्ता व संवेदनशीलता की अपेक्षा की जाती है। पर दुष्यंत गौतम ने तो इस धारणा को धूलधूसरित ही कर दिया।  कांग्रेस में अध्यक्ष पद के चुनाव पर सवाल उठाने को लेकर भी माहरा ने भाजपा पर तंज कसे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस लोकतांत्रिक व्यवस्था से अपना अध्यक्ष चुन रही है।

कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र मजबूत है इसलिए हर व्यक्ति अपनी बात कह सकता है। जबकि भाजपा तो केवल दो लोगों की जेबी पार्टी में तब्दील हो चुकी है। भाजपा के लोग खुद भी इस बात को महसूस करते हैं, लेकिन वहां लोकतंत्र मिट चुका है, इसलिए कोई कुछ कहने ही हिम्मत ही नहीं कर सकता। 

Related Articles

Back to top button