विराट कोहली के ऊपर BCCI ने डाला दवाब? सौरव गांगुली ने दिया बड़ा बयान

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली मौजूदा टी20 वर्ल्ड कप के बाद भारतीय टीम की कप्तानी छोड़ देंगे. इस बात का फैसला उन्होंने वर्ल्ड कप से पहले ही कर लिया था. लेकिन ये बात सुनकर बड़े-बड़े दिग्गज और उनके फैंस हैरान रह गए थे. तब से लगातार इस बात पर सवाल उठ रहे हैं कि कोहली ने आखिर इतना बड़ा फैसला क्यों लिया. अब इसी बात पर बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने एक बड़ा बयान दिया है.

बीसीसीआई ने बनाया था दवाब?

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा कि इस विश्व कप के बाद टी20 कप्तानी छोड़ने का फैसला विराट कोहली का था और बोर्ड ने उन पर कोई दबाव नहीं डाला. गांगुली ने कहा, ‘मैं इससे हैरान था. उसने शायद इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के बाद यह फैसला लिया. यह उसका फैसला था. हमने न तो उससे बात की और न ही उस पर दबाव डाला. हम किसी पर दबाव नहीं डालते. मैं भी खिलाड़ी रहा हूं और ऐसी बात कभी नहीं करूंगा.’

तीनों फॉर्मेट की कप्तानी आसान नहीं 

गांगुली ने कहा, ‘अब बहुत क्रिकेट खेला जाता है और इतने लंबे समय तक तीनों फॉर्मेट में कप्तानी आसान नहीं. मैं भी पांच साल कप्तान रहा हूं.’ उन्होंने कहा, ‘कप्तानी के साथ काफी शोहरत और सम्मान मिलता है लेकिन खिलाड़ी भी मानसिक और शारीरिक रूप से थकते हैं. यह बात गांगुली, धोनी या विराट की नहीं है. भविष्य के कप्तानों को भी दबाव महसूस होगा. यह आसान काम नहीं है.’

बने रहेंगे टेस्ट और वनडे के कप्तान 

विराट कोहली ने टेस्ट और वनडे टीम की कप्तानी जारी रखने का फैसला किया है. पिछले कुछ सालों से कोहली का बल्ला वैसा नहीं चल पाया है जैसा पहले चला करता था. कोहली पिछले दो साल से सभी फॉर्मेट में कोई भी शतक मारने में नाकाम रहे हैं. उनकी खराब फॉर्म के पीछे एक सबसे बड़ी वजह ये ही रही है कि वो तीनों फॉर्मेट में टीम की कप्तानी करते हैं और उसका बोझ उनसे संभाला नहीं गया. 

शानदार है रिकॉर्ड

कोहली का टी20 कप्तान के रूप में रिकॉर्ड काफी शानदार रहा है. उन्होंने कुल 45 मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी की है और उनमें से 27 में टीम इंडिया को जीत हासिल हुई है. वहीं 14 मैचों में भारत हारा है. जबकि 4 मैच ऐसे रहे जिनका नतीजा नहीं निकल सका. कोहली ने बताया कि टी20 टीम की कप्तानी छोड़ने का फैसला उन्होंने अपने करीबी लोगों से राय लेकर ही लिया. इसमें टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री और रोहित शर्मा भी शामिल थे. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + 3 =

Back to top button