राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाली प्रदेश की पंचायतों को किया जायेगा पुरस्कृत

भारत सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी आगामी 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट कार्य करने वाली त्रिस्तरीय पंचायतों को पुरस्कृत किया जायेगा। इस संबंध में राज्य सरकार ने प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतों को आवेदन कराये जाने हेतु समस्त जिलाधिकारियों को निर्देशित किया है। 

लखनऊ (आरएनएस)

प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार भारत सरकार की वेबसाईट पर दिये गये प्रारूप में सभी ग्राम पंचायतों द्वारा 10 सितम्बर से 31 अक्टूबर के मध्य आवेदन किये जायेंगे।
निदेशक पंचायती राज अनुज कुमार झा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान वर्ष में पंचायत पुरस्कारों के स्वरूप में परिवर्तन किया गया है। अब दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सतत विकास पुरस्कार ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत, जिला पंचायत को स्थानीय सतत विकास की 09 थीमध्विषयों पर दिया जायेगा। जिनमें गरीबी मुक्त एवं बेहतर आजीविका वाली पंचायत, स्वस्थ पंचायत, बालमैत्री पंचायत, पर्याप्त जलयुक्त वाली पंचायत, स्वच्छ एवं हरित पंचायत, आत्मनिर्भर बुनियादी ढांचे युक्त पंचायत, न्यायसंगत एवं सामाजिक रूप से सुरक्षित पंचायत, सुशासित पंचायत, महिला हितैषी पंचायत आदि विषय शामिल हैं।
इसी प्रकार नानाजी देशमुख सर्वोत्तम पंचायत सतत विकास पुरस्कार ग्राम, क्षेत्र एवं जिला पंचायत को केवल राष्ट्रीय स्तर पर प्रदान किये जायेगें। इसमें ग्राम पंचायत को 09 विषयों व थीम के अंतर्गत संयुक्त रूप से उच्चतम अंक प्राप्त करने वाली प्रथम 03 ग्राम पंचायतें पुरस्कृत होगी। क्षेत्र पंचायत में राष्ट्रीय स्तर पर सर्वोत्कृष्ट अंक प्राप्त करने वाली 03 क्षेत्र पंचायतों को (क्षेत्र पंचायतों से सम्मिलित कुल ग्राम पंचायतों के सभी 09 थीम व विषयों के औसतन अंकों के आधार पर) पुरस्कृत किया जायेगा। जिला पंचायत को राष्ट्रीय स्तर पर सर्वोत्कृष्ट अंक प्राप्त करने वाली 03 जिला पंचायतों को (जिला पंचायतों में सम्मिलत कुल ग्राम पंचायतों के सभी 09 थीम व विषयों के औसतन अंकों के आधार पर) प्रदान किये जायेंगे। इसी प्रकार विशेष पुरस्कार केवल राष्ट्रीय स्तर पर प्रदान किये जायेंगे, जिसमें ग्राम ऊर्जा स्वराज विशेष पंचायत पुरस्कार सौर ऊर्जा एवं नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोतों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 03 ग्राम पंचायतों को पुरस्कृत किया जायेगा। कार्बन न्यूट्रल विशेष पंचायत पुरस्कार राष्ट्रीय स्तर पर 03 ग्राम पंचायतों को दिया जायेगा, जो कि पंचायत स्तर पर नेट जीरो कार्बन इमीशन प्राप्त करने में उत्कृष्ट कार्य किया हो। इसी प्रकार नानाजी देशमुख पंचायत सतत विकास पुरस्कार ऐसे ग्राम पंचायत को प्रदान किया जायेगा जो कि एक से अधिक बार दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सतत विकास पुरस्कार प्राप्त किया हो। पंचायत क्षमता निर्माण सर्वोत्तम संस्था पुरस्कार राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम 03 ऐसी संस्थाओं को दिया जायेगा, जिन्होंने एल0एस0डी0जी0 के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए अभूतपूर्व कार्य किया हो। विशेष प्रतिभागिता पुरस्कार ऐसे प्रदेश को प्रदान किया जायेगा जहां से सबसे अधिक ग्राम पंचायतों ने इन पुरस्कार श्रेणियों में हिस्सा लिया हो।

Tags : #UPNews #UttarPradesh #IndianGovernment #Panchayat #NationalAward #outstandingwork #GramPanchayats #HindiNews

राष्ट्रीय न्यूज़ 

Related Articles

Back to top button