लुलु मॉल में हनुमान चालीसा पढ़ने वाले अक्षय शास्त्री को गदा भेंट करते महंत राजूदास

लुलु मॉल में नमाज पढ़े जाने के विरोध में हनुमान चालीसा पढ़ने वाले अक्षय शास्त्री का अयोध्या में स्वागत किया गया। सात दिन की न्यायिक हिरासत को पूरा कर लुलु मॉल में हनुमान चालीसा पढ़ने वाले अक्षय शास्त्री अयोध्या तो उन्होंने हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास से मुलाकात कर आशीर्वाद लिया हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने भगवा अंग वस्त्र पहनाकर उनका स्वागत किया और साथ ही अक्षय शास्त्री को एक चांदी की गदा भी भेंट किया।

लुलु मॉल में हनुमान चालीसा का पाठ करने पर जेल से रिहा होकर अयोध्या पहुंचे अक्षय शास्त्री ने कहा कि लुलु मॉल में हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए हमने आवाहन किया था मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा लुलु मॉल का उद्धघाटन कराया गया जिसके बाद समुदाय विशेष के द्वारा लुलु मॉल में नमाज पढ़ी गई हनुमान चालीसा पढ़ने वाले अक्षय शास्त्री ने कहा कि एक बार नहीं दो बार यह क्रम दोहराया गया पहली बार कहा गया गलती हो गई दोबारा फिर किया गया इसका जवाब देने के लिए हमने विचार किया मेरा यह लक्ष्य था कि लुलु मॉल में नमाज पढ़कर पवित्रता फैलाई गई है तो वहां पर मैं हनुमान चालीसा का पाठ कर शुद्ध पवित्र करू इस नाते हमने हनुमान चालीसा का पाठ किया और इसकी वजह से हमें 7 दिन जेल भी जाना पड़ा आज जब जेल से रिहा हुए हैं तो हनुमानगढ़ी आकर गुरुदेव का आशीर्वाद लिया अच्छा शास्त्री ने मीडिया के जरिए देश के युवाओं से आवाहन किया है कि कि देश के हित में युवा आगे आएं और साथ खड़े हो और राष्ट्र धर्म के लिए कुछ करें।
वहीं हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने कहा कि बीच में एक माहौल चल रहा था पूरे देश में लुलु मॉल का टुकड़े टुकड़े गैंग के समर्थक जो राष्ट्र को तोड़ने की बात करते हैं ऐसी मानसिकता की सोच वाले लोगों ने लुलु मॉल में नमाज पढ़ी हम लोगों ने यह कहा था कि पूजा पाठ के लिए मंदिर है और नमाज के लिए मस्जिद बनाई गई है सार्वजनिक और व्यवसायिक केंद्र पर इस तरीके के आयोजन अच्छी बात नहीं है दो बार लुलु मॉल में नमाज पढ़ी गई जिसके बाद हम लोगों ने आवाहन किया था कि हम लोग भी हनुमान चालीसा का पाठ लुलु मॉल में करेंगे महंत राजू दास ने अक्षय शास्त्री को साधुवाद देते हुए कहा कि जिसने सनातन धर्म और संस्कृति के लिए यह माना कि हमारा भी कुछ धर्म बनता है जिसके बाद अक्षय शास्त्री ने लुलु मॉल में हनुमान चालीसा का पाठ किया।

Rashtriya News 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button