आंध्र प्रदेश: समुद्री लहर की चपेट में आने से तीन छात्रों की मौत

आंध्र प्रदेश के अनाकपल्ली जिले में समुद्री तट पर हुई हादसों में मरने वालों की संख्या बढ़कर तीन हो गई है। शनिवार सुबह दो और इंजीनियरिंग छात्रों के शवों को बरामद किया गया। इससे पहले, शुक्रवार को एक छात्र की मौत हो गई थी। मृतक की पहचान नरसीपट्टनम गांव के निवासी गुडीवाड़ा पवन सूर्य कुमार (19) के रूप में हुई है। पुलिस ने बताया कि तीन अन्य छात्र भी लापता हैं। शुक्रवार को समुद्री लहरों की चपेट में आने से कई विद्यार्थी लापता हो गए थे, जिसके बाद तट रक्षक बल और समुद्री पुलिस बल ने सभी छात्रों का पता लगाने के लिए एक अभियान शुरू किया था। जानकारी के मुताबिक, एक अन्य छात्र जिसको घटना स्थल से बचाया गया था उसका इलाज अस्पताल में चल रहा है।

सभी 13 विद्यार्थी अनाकपल्ली जिले के डीआईईटी कॉलेज (DIET College) से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहे थे और सभी एक साथ पुदीमडका में समुद्री तट पर गए थे। इनमें से छह छात्र किनारे पर खड़े रहे, जबकि अन्य सात विद्यार्थी समुद्र के पानी में उतरे और समुद्री लहरों के बीच फंस गए। विद्यार्थियों को लहरों के साथ पानी में बह जाने का डर था। इस दौरान एक छात्र को तुरंत बचाकर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया जबकि एक छात्र की मौके पर ही मौत हो गई थी और अन्य पांच लापता हो गए थे।

समुद्र में विद्यार्थियों के बह जाने के बाद प्रशासन ने उन्हें पता लगाने के लिए चार नाव और दो हेलीकॉप्टर के साथ बड़े पैमने पर जांच अभियान शुरू किया है। पुलिस ने बताया कि तीन अन्य छात्रों का पता लगाने के लिए जांच अभियान जारी है।

अंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने इस घटना पर दुख जताया है। उन्होंने मंत्री अमरनाथ को इस पूरे घटनाक्रम और बचाव अभियान की निगरानी करने का निर्देश दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ten − 9 =

Back to top button