अमृत योग सप्ताह के 3.5 करोड़ लोगों को जोड़ने का लक्ष्य: मंडलायुक्त

मंडलायुक्त रंजन कुमार ने बताया कि लखनऊ मण्डल व जनपद में जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार के नेतृत्व में आजादी के अमृत महोत्सव का वृहद स्तर पर आयोजन होगा। रंजन कुमार ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा लिये गये निर्णय के तहत पीएम द्वारा मन की बात कार्यक्रम में तथा देश के सभी सरपंचों के संबोधन में योग के महत्व पर बल देते हुए इसको वसुधैव कुटुम्बकम की भावना को मजबूती प्रदान करने वाला तथा पूरी मानवता को एक साथ जोड़ने के एक सशक्त माध्यम रुप में तैयार किया गया है। इसके अन्तर्गत आठवें अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून 2022 की थीम मानवता के लिए योग घोषित की गई है। उन्होनें बताया कि स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ के पावन अवसर पर पूरे देश में मनाये जा रहे हैं। बताया कि आजादी का अमृत महोत्सव 2022 के अवसर पर देश के 25 करोड़ लोगों को योग से जोड़े जाने का संकल्प लिया गया है। 

लखनऊ(आरएनएस)

जिसके क्रम में उ0प्र0 से 3.5 करोड़ लोगों को जोड़े जाने का लक्ष्य है, जिसकी प्राप्ति के लिये अमृत योग सप्ताह के आयोजन का निर्णय लिया गया है। मंडलायुक्त ने बताया कि मुख्य सचिव द्वारा जारी शासना देश के अनुसार प्रत्येक जनपद में कार्यक्रम को सफलतापूर्वक सम्पन्न कराये जाने के लिये जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समिति का गठन करने का निर्देश जारी किया गया है। आगे बताया कि यह समिति अमृत योग सप्ताह के तहत जनपद के नगर निगम, नगर पालिका, नगर पंचायत वार्ड, तहसील, ब्लांक, ग्राम पंचायत, महाविद्यालय, चिकित्सा शिक्षा महाविद्यालय, प्राविधिक शिक्षा महाविद्यालय, उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, माध्यमिक विद्यालय, प्राथमिक विद्यालय, आयुष चिकित्सालयों, हैल्थ वेलनेस सेण्टर, योग वेलनेस सेण्टर आदि स्थानों पर योग के सामूहिक अभ्यास कार्यक्रमों का माइक्रो प्लान तैयार कराकर संचालित कराना सुनिश्चित करायेंगे।
14 जून 2022 को अमृत योग सप्ताह का शुभारम्भ किये जाने हेतु समस्त जनपद मुख्यालयों, तहसीलों, ब्लाकों एवं ग्राम पंचायतों में कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा। कार्यक्रम में जनपद के  सांसद, मंत्री,  विधायक और अन्य गणमान्य जन प्रतिनिधियों को आमत्रिंत कर कार्यक्रम का उदघाटन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि कार्यक्रमों में आने वाले योगाभ्यासियों द्वारा अपने घर के सदस्यों और अन्य को भी योग करने के लिये प्रेरित किया जायेगा। अमृत योग सप्ताह एवं अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस में भाग लेने वाले प्रतिभागियों की फोटो एवं प्रतिभागियों की संख्या का विवरण आयुष कवच ऐप या सामूहिक अथवा व्यक्तिगत रूप से अपलोड किया जायेगा। जनपद में कार्यरत निम्नलिखित विभिन्न संस्थानों के प्रशिक्षित योग ट्रेनर के सहयोग से जनपद/ब्लॉक/पंचायत स्तर पर आयोजित सामूहिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा।
बाक्स-:
नदियों, झीलों, नैसर्गिक सौन्दर्य से जुडे स्थलों को देंगे प्राथमिकता उन्होंने यह भी बताया कि एनसीसी, एनएसएस स्काउट गाइड, प्रान्तीय रक्षा दल, आंगनबाड़ी, एनजीओ व अन्य को योग ट्रेनर द्वारा प्रशिक्षित करते हुये सामूहिक आयोजनों में इनकी सहभागिता सुनिश्चित की जाये। उन्होंने बताया कि योगाभ्यास के लिये जनपद-क्षेत्र के किसी प्राचीन सांस्कृतिक पर्यटन स्थल, ऐतिहासिक महत्व के स्थान, प्रमुख नदियों, झीलों, तालाबों के किनारे एवं प्रमुख नैसर्गिक सौन्दर्य से परिपूर्ण स्थलों को, पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से चयन में प्रमुखता दी जाये। उन्होंने बताया कि योगाभ्यास के लिये ऐसे स्थलों का चयन किया जाय जहाँ पर सभी लोग एकत्रित होकर सामूहिक रूप से योगाभ्यास कर सकें। आयोजन से संबंधित तस्वीरों को आयुष कवच एवं अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म के माध्यम से साझा किया जाये, जिससे और सभी लोग भी प्रेरणा लेकर योग को अपने जीवन का अभिन्न अंग बना सकें। उन्होंने जोर देकर कहा कि कार्यक्रमों में कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जाये। ऐसे जनपद जो योगाभ्यास कार्यक्रम में योगाभ्यासियों की अधिकतम संख्या, अभिनव थीम और अन्तर्राष्ट्रीय तथा राष्ट्रीय स्तर पर कीर्तिमान स्थापित करेगें, उनमें से सर्वोत्तम तीन जनपदों को पुरस्कृत किया जायेगा।

Rashtriya News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

one × 2 =

Back to top button