अमित शाह कल नई दिल्ली में शहरी सहकारी ऋण क्षेत्र की भविष्य की भूमिका विषय पर क्रेडिट सोसाइटी सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे

केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री, अमित शाह कल नई दिल्ली में शहरी सहकारी ऋण क्षेत्र की भविष्य की भूमिका विषय पर राष्ट्रीय अनुसूचित और बहु-राज्य शहरी सहकारी बैंक तथा क्रेडिट सोसाइटी सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे। यह सम्मेलन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सहकार से समृद्धि (सहकारिता के माध्यम से समृद्धि) के दृष्टिकोण को और मजबूत करेगा।

सम्मलेन के व्यावसायिक सत्रों में अनुसूचित और बहु-राज्य शहरी सहकारी बैंकों तथा क्रेडिट सोसाइटी एवं सहकारी ऋण क्षेत्र से संबंधित विभिन्न मुद्दे शामिल होंगे- जैसे शहरी सहकारी बैंकों की भविष्य की भूमिका और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की विशेषज्ञ समिति की सिफारिशें, शहरी सहकारी क्षेत्र के लिए राष्ट्रीय सहकारी वित्त और विकास सहयोग एक व्यापक संगठन के रूप में एक गेम चेंजर, बैंकिंग विनियमन (संशोधन) अधिनियम, 2020 और इसके प्रभाव एवं विकास, बहु-राज्य समितियों के विशेष संदर्भ में वित्तीय क्षेत्र परिदृश्य में क्रेडिट सोसाइटी की भूमिका तथा सहकारी क्रेडिट सोसाइटी के विनियमन और कराधान आदि।
सम्मलेन उन शहरी सहकारी बैंकों को भी सम्मानित करेगा, जिन्होंने समाज की सेवा के 100 साल पूरे कर लिए हैं। देश में ऐसे 197 बैंक हैं। यह देश में सहकारी समितियों और सहकारी बैंकों के गहरे रूप से जुड़े होने का संकेत देता है। गणमान्य व्यक्तियों द्वारा विभिन्न बैंकों को सम्मानित किया जायेगा। सम्मलेन में कई बैंकों के शामिल होने की उम्मीद है।
शहरी सहकारी बैंक, देश के सबसे पुराने बैंकिंग संस्थानों में से हैं। वे एक सदी से भी अधिक समय से अस्तित्व में हैं। समाज के विभिन्न समुदायों से जुड़े लोगों द्वारा इन बैंकों को संगठित और प्रबंधित किया जाता है; जिनमें शिक्षक, वकील, व्यापारी, डॉक्टर, इंजीनियर, सामाजिक कार्यकर्ता और अन्य शामिल हो सकते हैं और वे अपने सदस्यों को बैंकिंग सेवाएं प्रदान करते हैं।
इस अवसर पर सहकारिता राज्य मंत्री बी.एल. वर्मा, सहकारिता मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी, नेशनल फेडरेशन ऑफ अर्बन कोऑपरेटिव बैंक्स एंड क्रेडिट सोसाइटीज लिमिटेड (एनएएफसीयूबी) के मानद अध्यक्ष डॉ. एच.के. पाटिल, एनएएफसीयूबी के अध्यक्ष ज्योतिंद्र मेहता और एनएएफसीयूबी के उपाध्यक्ष वी.वी. अनस्कर भी उपस्थित रहेंगे।

Rashtriya News 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen − 3 =

Back to top button