बिहार हिंसा पर एक्शन में अमित शाह, राज्यपाल के साथ की मीटिंग

पटना। बिहार में हिंसा के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बिहार के राज्यपाल विश्वनाथ आर्लेकर से बात की है। अमित शाह ने राज्यपाल से बिहार शरीफ, सासाराम और अन्य जगहों पर उपद्रवियों की ओर से की गई हिंसा और ताजा हालात पर चर्चा की।

बिहार के कई जिलों में हिंसा और दो समुदायों के बीच हिंसा और दंगे जैसी स्थिति को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह एक्शन में आ गए हैं। गृह मंत्री ने बिहार के गवर्नर राजेंद्र विश्वनाथन अर्लेकर से विचार विमर्श करने के बाद राज्य में अर्धसैनिक बलों की तैनाती का फैसला किया है। राज्य के सासाराम, नालंदा, गया भागलपुर और मुजफ्फरपुर से उपद्रव और हिंसा की खबरें आ रही हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अर्धसैनिक बलों के 10 कंपनियां बिहार में तैनात की जाएंगी। इनमें एसएसबी के अलावे सीआरपीएफ और आईटीबीपी को शामिल किया गया है।

यह भी पढ़ें –नालंदा में दोबारा फायरिंग से फिर बिगड़े हालात, मर्डर के बाद लगाया गया कर्फ्यू

अमित शाह दो दिवसीय दौरे पर बिहार में हैं। नवादा में आज उनकी रैली होने वाली है। उपद्रव और संप्रदायिक तनाव की वजह से सासाराम में अमित शाह की रैली को भाजपा ने स्थगित कर दिया है। राज्य में सांप्रदायिक तनाव और हिंसक वारदातों पर गृह मंत्री ने खुद संज्ञान लिया है। जानकारी के मुताबिक अर्द्धसैनिक बालों की कंपनियां बिहार के लिए रवाना हो गई है। बिहार शरीफ में शनिवार की शाम पैरामिलिट्री फोर्स को तैनात कर दिया गया। पूरे शहर के इलाके में नालंदा पुलिस और अर्धसैनिक बलों का संयुक्त फ्लैग मार्च किया गया।

हालांकि, उसके बाद भी बिहार शरीफ में दो पक्षों में 30 राउंड से ज्यादा गोलियां चली। इसमें एक युवक की मौत हो गई और गोली लगने से दो अन्य युवक घायल हैं। उन्मादी भीड़ ने पुलिस पर भी हमला किया उसके बाद बिहार शरीफ के शहरी इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया। प्रशासन के आदेश से इंटरनेट सेवा को भी बंद कर दिया गया।

Tag: #nextindiatimes #bihar #amitshah

Related Articles

Back to top button