मांझी की धमकी के बाद बढ़ी नीतीश कुमार की मुश्किलें, डैमेज कंट्रोल में जुटे सुशील मोदी

पटना: बिहार की राजधानी पटना में बिहार सरकार में भारतीय जनता पार्टी कोटे से मंत्री नीरज सिंह बबलू के एक बेतुके बयान के पश्चात् पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने नीतीश सरकार को गिराने की धमकी दे दी। तत्पश्चात, भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुशील मोदी डैमेज कंट्रोल में जुट हुए हैं। उन्होंने कहा है कि जीतन राम मांझी वरिष्ठ नेता हैं। उन पर शेष अन्य दलों की तरफ से कोई बयानबाजी नहीं होनी चाहिए।

दरअसल, पिछले दिनों पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा पंड़ितों को गाली देने तथा फिर डैमेज कंट्रोल के तौर पर जब मांझी सोमवार को ब्राह्मण भोज करा रहे थे इसी के चलते मंत्री नीरज कुमार बबलू उन पर ताबड़तोड़ हमला कर रहे थे। इसके अतिरिक्त उन्हें राजनीति से संन्यास लेने की राय दे रहे थे। भारतीय जनता पार्टी कोटे से मंत्री नीरज सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार ने जीतन राम मांझी को मुख्यमंत्री बनाया देख कर ऐसा लगता है कि मांझी पर अब आयु बढ़ने के साथ दिमाग पर गलत प्रभाव पड़ रहा है। इस के चलते मांझी को समझना चाहिए कि उनका बेटा भी नीतीश कुमार सरकार में मंत्री है तथा गलत बयानबाजी से बचना चाहिए। मांझी को सियासत से संन्यास लेकर राम नाम जपना चाहिए।  नीरज के बयान के पश्चात् मांझी ने नीतीश सरकार गिराने की धमकी दी नीरज बबलू के इसी बयान से मांझी की पार्टी इतनी खफा हो गई कि अपने 4 MLA के दम पर चलने वाले बिहार सरकार गिराने की धमकी दे दी।

आपको बता दें कि हम पार्टी के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने बताया कि जीतन राम मांझी को नीरज बबलू की सलाह की कोई आवश्यकता नहीं है। नीरज बबलू को ध्यान रखना चाहिए कि यदि मांझी ने अपने 4 MLA का सपोर्ट सरकार से हटा लिया तो नीरज बबलू मंत्री भी नहीं रहेंगे तथा सड़क पर आ जाएंगे। नीरज बबलू को बयानबाजी करने से पहले 20 बार सोचना चाहिए।  हालांकि इस मुद्दे में अब डैमेज कंट्रोल में आए सुशील मोदी उनकों मनाने की जुगत में लगे रहे, वहीं भारतीय जनता पार्टी की ओर से पूरे विवाद पर डैमेज कंट्रोल के लिए पूर्व डिप्टी सीएम तथा पार्टी के राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी सामने आए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × one =

Back to top button