मेरठ में दहेज की मांग पूरी ना होने पर पति ने विवाहिता को घर से निकाल ,दिया तीन तलाक

मेरठ में दहेज की मांग पूरी ना होने पर पति ने विवाहिता को पहले तो मारपीट कर घर से निकाल दिया। विरोध करने पर तीन तलाक भी दे दिया। पीड़िता ने मायके वालों के साथ थाने में पहुंचकर पति के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

दहेज के लिए किया परेशान

गाजियाबाद निवासी व्यक्ति ने बताया कि पांच साल पहले उसने बेटी की शादी ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के खाता रोड निवासी युवक से की थी। कुछ समय बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए उसे परेशान करने लगे थे। आरोप है कि देवर भी बेटी पर बुरी नजर रखता था। उसके साथ आए दिन मारपीट की जाती थी। दोनों पक्षों की कई बार पंचायत भी हुई, लेकिन कोई समाधान नहीं निकल सका।

पुलिस जांच के आधार करेगी कार्रवाई

दो दिन पहले पति ने बेटी को मारपीट कर घर से निकाल दिया। विरोध किया तो तीन तलाक भी दे दिया। सूचना पर वह बेटी को अपने साथ गाजियाबाद ले गए थे। मंगलवार को थाने में पहुंचकर उन्होंने पति और अन्य ससुराल वालों के खिलाफ तहरीर दी है। थाना प्रभारी का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है। तहरीर के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

प्रेमी युगल ने स्वजन से जताया जान का खतरा

वहीं मेरठ में एक ही मोहल्ले में रहने वाले युगल ने स्वजन के समक्ष शादी का प्रस्ताव रखा। बिरादरी अलग होने की वजह से उन्होंने शादी से इन्कार कर दिया। युगल ने घर से फरार होकर प्रेम विवाह कर लिया। इसी बात से नाराज विवाहिता के स्वजन उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहे है। युगल ने एसएसपी कार्यालय में शिकायत पत्र दिया है।

शादी की बात पर भड़के स्‍वजन

ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के माधवपुरम निवासी प्रशांत नोएडा स्थित एक आईटी कंपनी में नौकरी करते हैं। उनका प्रेमप्रसंग गली में रहने वाली एक युवती से चल रहा था। उन्होंने स्वजन से शादी की बात की तो वे भड़क गए और युवती को एक रिश्तेदार के घर भेज दिया। पंद्रह दिन पहले युवती घर वापस लौटी तो उन्होंने शादी करने की योजना बनाई और घर से फरार हो गए। युगल के मुताबिक उन्होंने गाजियाबाद में कोर्ट मैरिज करने के बाद हिंदू रीति रिवाज से शादी कर ली और किराये के मकान में रहने लगे। शिकायत सुन रहे सीओ अमित राय ने ब्रह्मपुरी थाना प्रभारी दिनेश चंद्र शर्मा को मामले की जांच कर निष्पक्ष कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

twenty − four =

Back to top button