शिक्षक भर्ती घोटाले में पुलिस अधिकारी भी शामिल ,जानिए पूरा मामला..

सारधा चिटफंड घोटाले की जांच को लेकर भी सीबीआइ उनसे पूछताछ कर चुकी है। मानिक भट्टाचार्य के साथ उनकी व्हाट्सएप चैट का भी रिकार्ड है। शिक्षक भर्ती घोटाले में पुलिस अधिकारी की किस तरह की भूमिका है ईडी अब इसका पता लगाने में जुट गई है।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। शिक्षक भर्ती घोटाले में अब राज्य के एक आला पुलिस अधिकारी पर ईडी की नजर है। मामले की जांच में उक्त पुलिस अधिकारी का नाम सामने आया है। पता चला है कि सारधा चिटफंड घोटाले की जांच को लेकर भी सीबीआइ उनसे पूछताछ कर चुकी है। ईडी सूत्रों ने बताया कि मामले में गिरफ्तार बंगाल के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी अर्पिता मुखर्जी एवं पश्चिम बंगाल प्राथमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष मानिक भट्टाचार्य के फ्लैट से बरामद किए गए विभिन्न मोबाइल फोन की काल लिस्ट में उक्त पुलिस अधिकारी का मोबाइल नंबर सांकेतिक नाम से सेव मिला है। मानिक भट्टाचार्य के साथ उनकी व्हाट्सएप चैट का भी रिकार्ड है। शिक्षक भर्ती घोटाले में पुलिस अधिकारी की किस तरह की भूमिका है, ईडी अब इसका पता लगाने में जुट गई है। तमाम तथ्य जुटाने के बाद उन्हें बुलाकर पूछताछ की जा सकती है। इससे पहले नारद स्टिंग आपरेशन कांड में एक प्रभावशाली पुलिस अधिकारी का नाम सामने आ चुका है। कोयला व मवेशी तस्करी कांड में भी राज्य पुलिस के अधिकारियों के एक वर्ग की मिलीभगत का सीबीआइ और ईडी दावा कर चुकी हैं। पहली बार शिक्षक भर्ती घोटाले में भी पुलिस अधिकारी का नाम सामने आया है। अब तक शिक्षा विभाग से जुड़े लोग ही इसमें आरोपित बताए जा रहे थे। इस मामले में अब तक राज्य के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी, उनकी करीबी अर्पिता मुखर्जी, पश्चिम बंगाल माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष कल्याणमय गांगुली, पश्चिम बंगाल प्राथमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष मानिक भट्टाचार्य, स्कूल सर्विस कमीशन के पूर्व अध्यक्ष सुबीरेश भट्टाचार्य, स्कूल सर्विस कमीशन की सलाहकार समिति के पूर्व सदस्य शांति प्रसाद सिन्हा समेत अन्य लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। 

Related Articles

Back to top button