अमेठी में हुआ दिल देहला देने वाली घटना, जाने पूरा मामला

अमेठी में शिवरतनगंज क्षेत्र के कुकहा रामपुर गांव में सोमवार की रात एक मां ने अपने दो मासूम बच्चों की धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या करने के बाद खुद फांसी के फंदे पर लटक कर जान दे दी। काफी देर तक दरवाजा न खुलने पर बूढ़ी सास को अनहोनी की आशंका हुई। दरवाजा तोड़कर देखा गया तो दोनों बच्चों के शव खून से लथपथ पड़े थे और महिला का शव फांसी के फंदे से झूल रहा था। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। अमेठी के पुलिस अधीक्षक भी पहुंचकर तहकीकात कर रहे हैं।

थाना क्षेत्र के कुकहा रामपुर गांव निवासी धर्मराज की पत्नी शीतला देवी  (32 वर्ष) बीती रात अपनी बेटी निधि (4 वर्ष) और बेटे रितेश (ढाई वर्ष) के साथ रह रही थी। उसका पति लखनऊ में दिहाड़ी मजदूर है। 2 दिन पहले ही वह रोजगार के सिलसिले में लखनऊ गया था। घर में वृद्ध सास साथ में रहती थी। सोमवार की रात शीतला देवी ने अपने दोनों बच्चों का घर में रखे धारदार हथियार से बेरहमी से गला रेतकर हत्या कर दी। इसके बाद उसने फांसी के फंदे से लटक कर अपनी भी जान दे दी।

मंगलवार की सुबह 8:30 तक जब दरवाज़ा नहीं खुला तो उसकी बूढ़ी सास को कुछ आशंका हुई। इस पर उसने ग्राम प्रधान सहित कई लोगों को इस जानकारी दी। ग्रामीणो ने पूरे मामले की जानकारी पुलिस को दी। घटना स्थल पर मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से दरवाजे के कुंडे को तुड़वाया। कमरे के अन्दर का नजारा देख सभी दंग रह गए। जमीन पर खून लथपथ दोनों मासूम बच्चों के शव पड़ हुए थे। शीतला देवी का शव फांसी के फंदे पर लटक रहा था। बगल में स्टूल रखा हुआ था। आशंका जताई जा रही है कि महिला ने स्टूल के सहारे ही फांसी लगाई है।

गांव में सनसनी और तरह-तरह की चर्चाएं:  एक कमरे में तीन तीन शव पड़े होने की जानकारी मिलते ही गांव में सनसनी फैल गई। बड़ी संख्या में लोग घटनास्थल पर एकत्र हो गए। पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्टया बच्चों की हत्या कर महिला के फांसी लगाने की बात सामने आ रही है लेकिन गांव में घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं भी हैं।

पुलिस ने शुरू की तहकीकात : घटना की सूचना मिलते ही मौके पर स्थानीय थाने की पुलिस सहित मोहनगंज और कमरौली थाने की पुलिस के साथ साथ तिलोई और मुसाफिरखाना के क्षेत्राधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक और एसपी मौके पर पहुंच गए। एसपी ने घटना स्थल का जायजा लेने के बाद मातहतों को घटना के खुलासे के लिए जरूरी निर्देश दिए। ग्रामीणों ने बताया कि दो दिन पहले मृतका का पति मजदूरी करने के लिए लखनऊ चला गया था। मौके पर वह भी मौजूद नहीं था। गांव वाले चर्चा कर रहे हैं कि आखिर ऐसी कौन सी बात हुई, जिससे महिला ने मासूम दो बच्चो की हत्या कर अपने आप को मौत के हवाले कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button