छत्‍तीसगढ़ के माता कौशल्या मंदिर परिसर में एक साथ पांच हजार से अधिक लोग करेंगे योगासन

Yoga Day 2022 in Chhattisgarh: राजधानी में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियां शुरू हो गई है। इस साल योग दिवस को योगा फार ह्यूमैनिटी थीम पर मनाया जाएगा। पहली बार प्रदेश के ऐतिहासिक पर्यटन स्थल और धार्मिक स्थलों पर योग का आयोजन किया जाएगा ताकि उस इलाके में आने वाले पर्यटक, श्रद्धालु योग में शामिल हों। राजधानी में भव्य आयोजन चंद्रखुरी स्थित माता कौशल्या मंदिर में किया जाएगा।

पर्यटन और धार्मिक केंद्रों में करेंगे योगासन

इसके अलावा प्रदेश के सभी जिलों में कम से कम तीन पर्यटन अथवा धार्मिक केंद्रों में आयोजन की तैयारियां की जा रही है। माता कौशल्या मंदिर परिसर में एक साथ पांच हजार से अधिक लोग योगासन करेंगे। महिला, बुजुर्ग, युवक-युवतियों के अलावा मंत्री, विधायक, पार्षद, अधिकारियों के लिए योग करने की व्यवस्था की जाएगी। कौशल्या माता मंदिर के अलावा श्रीराम मंदिर, महादेवघाट, मरीन ड्राइव में भी योग करने हजारों युवा पहुंचेंगे।

तीन विभागों को जिम्मेदारी

योग दिवस पर ज्यादा से ज्यादा बच्चे, युवा, महिलाएं शामिल होकर योग कर सकें इसके लिए स्कूल शिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग और स्वास्थ्य विभाग को जिम्मेदारी देकर नोडल अधिकारी बनाया गया है।

योग प्रोटोकाल पुस्तिका

योग आयोजन को सफल करने के लिए योग प्रोटोकाल पुस्तिका प्रकाशित कर सभी जिलों में वितरित की जाएगी। पुस्तिका में तीन से 10 वर्ष के बच्चों और 11 से 18 वर्ष के किशोर, युवाओं के लिए किस तरह का योग किया जाए, इस संबंध में जानकारी दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ योग आयोग के अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा ने कहा, भारत सरकार आयुष मंत्रालय के दिशा-निर्देश के तहत इस साल योग दिवस को योगा फार ह्यूमैनिटी थीम पर मनाया जा रहा है। जिले में कम से कम तीन धार्मिक, पर्यटन केंद्रों को योग आयोजन के लिए चुना गया है। निजी संस्थाओं के भी अनेक आयोजन होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

eighteen − six =

Back to top button