मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्य मेला का 4953 लोगों ने उठाया लाभ, सीएमओ बोले – घर के पास मिल रही निःशुल्क इलाज व जांच सुविधा

रविवार को राजधानी के सभी नगरीय व ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों (पीएचसी) पर मुख्यमंत्री आरोग्य स्वास्थ्यमेला आयोजित हुआ। इसी क्रम में नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र उजरियांव एवं पिपराघाट का निरीक्षण चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के अपर निदेशक डॉ. जी.एस. बाजपेयी और अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेंद्र चौधरी ने किया। जबकि नगरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सेवा सदन, तोप दरवाजा, बुद्धेश्वर, किला मोहम्मदी और साले नगर औरंगाबाद का निरीक्षण मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मनोज अग्रवाल और उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. मिलिंद वर्धन ने किया। 

लखनऊ (आरएनएस)

सरकार के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे स्वास्थ्य सुविधा

इस दौरान अपर निदेशक ने कहा कि हर रविवार को पीएचसी पर आयोजित होने वाले स्वास्थ्य मेलों के माध्यम से क्षेत्रीय लोगों को लाभ हो रहा है। उनके स्वास्थ्य की जांच भी हो रही है और उन्हें दवाएं भी दी जा रही हैं। यही सरकार का भी उद्देश्य है कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचे। सरकार की इस मुहिम में स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ अन्य विभाग भी सहयोग कर रहे हैं।

घर के पास मिल रहा निःशुल्क इलाज व जांच

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा कि आरोग्य मेले के माध्यम से लोगों को उनके घर के समीप ही स्वास्थ्य सुविधाएं निःशुल्क मुहैया कराई जा रही हैं। साथ ही, उन्हें सरकार द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी भी दी जा रही है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने सभी चिकित्सा प्रभारियों को निर्देशित किया कि कोविड टीकाकरण प्रिकॉशन डोज एवं नियमित टीकाकरण के सभी पात्र लाभार्थियों को शत-प्रतिशत आच्छादित किया जाए। साथ ही, आयुष्मान गोल्डन कार्ड के सभी पात्र लाभार्थियों को उपलब्ध करा दिया जाए।

परिवार नियोजन के साधन भी कराए जा रहें मुहैया

जिला स्वास्थ्य शिक्षा एवं सूचना अधिकारी योगेश रघुवंशी ने बताया कि आरोग्य मेले में गर्भावस्था एवं प्रसवकालीन सेवाएं,  पूर्ण टीकाकरण, बच्चों में डायरिया व निमोनिया के रोकथाम, बचाव और उपचार की जानकारी और सुविधाएँ दी जा रही हैं। कुपोषित बच्चों की पहचान और उनके उपचार के लिए समुचित कार्यवाही की जा रही है। परिवार कल्याण कार्यक्रमों के तहत बास्केट ऑफ च्वाइस के बारे में मेले में आने वाले लोगों को बताया जा रहा है और इच्छुक लाभार्थियों को परिवार नियोजन के साधन भी मुहैया कराए जा रहे हैं। 

आरोग्य मेले में दी जा रहीं ये सुविधाएं

इसके अलावा, ओ.पी.डी. की सेवाओं के साथ ही फाइलेरिया, दिमागी बुखार, टीबी, मलेरिया, डेंगू, एवं कुष्ठ रोग से सम्बंधित जानकारी, आवश्यक जांच, उपचार और संदर्भन (रेफर) की सुविधाएँ प्रदान की जा रही हैं। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं मुख्यमंत्री जनआरोग्य अभियान की जानकारी देने के साथ ही आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) का वितरण किया जा रहा है। 

4953 लोगों ने उठाया लाभ

आरोग्य मेले के दौरान स्वास्थ्य केंद्र पर राष्ट्रीय क्षय  उन्मूलन कार्यक्रम, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना सहित अन्य कार्यक्रमों के स्टॉल लगाए गए। मेले में बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग(आईसीडीएस) ने भी अपना स्टाल लगाया। जनपद के स्वास्थ्य केन्द्रों पर आयोजित इस आरोग्य मेले का 4953 लोगों ने लाभ उठाया, जिसमें पुरुष 1871 महिलायें 2259 और 823 बच्चे शामिल हैं। इस दौरान आयुष्मान भारत योजना के 31 लाभार्थियों का आयुष्मान कार्ड भी बनाया गया। इसके साथ ही 79 लोगों ने कोविड  एंटीजन टेस्ट कराया, जिसमें सभी निगेटिव आए।

Tags : #UPNews #UttarPradesh #Lucknow #Health #ArogyaSwasthyaMela #Organized #HealthCentres #FreeTreatmentAndCheckup #HindiNews

राष्ट्रीय न्यूज़

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button