अखिलेश को लेकर फिर छलका शिवपाल का दर्द,बोले-हमने उसे चलना सिखाया और…

समाजवादी पार्टी की स्थापना के समय से लेकर प्रदेश में पार्टी की सरकार बनने तक बड़ी मंजिल पाने वाले शिवपाल सिंह यादव का दर्द एक बार फिर छलका है। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2017 के दौरान समाजवादी पार्टी में अपमानित महसूस करने वाले शिवपाल सिंह यादव ने 29 अगस्त 2018 को अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का गठन किया। फिलहाल समाजवादी पार्टी से इटावा के जसवंतनगर से विधायक शिवपाल सिंह यादव के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने के कयास लग रहे हैं, इसी बीच उन्होंने मंगलवार को एक कू पोस्ट कर उत्तर प्रदेश की राजनीति में खलबली मचा दी है।

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का मंगलवार को ईद की मुबारकवाद देने के दौरान दर्द एक बार फिर बहार आ ही गया। उनके एक कू की भाषा से यह तो तय हो गया है कि आर-पार की यह लड़ाई अब राजनैतिक होगी। शिवपाल सिंह यादव लम्बे समय से प्रदेश में अपना दूसरा मजबूत ठिकाना तलाश रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी की तरफ से उनको बड़ा आफर भी है। शिवपाल सिंह यादव ने अब समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव के खिलाफ बड़ा मोर्चा खोलना तय कर लिया है।

शिवपाल सिंह यादव ने मंगलवार को ईद की मुबारकवाद का एक कू तो किया है, लेकिन उसमें टारगेट किसी और को बनाया है। शिवपाल सिंह यादव ने कू किया है कि अपने सम्मान के न्यूनतम बिंदु पर जाकर मैंने उसे संतुष्ट करने का प्रयास किया। इसके बावजूद भी अगर नाराज हूं तो किस स्तर तक उसने हृदय को चोट दी होगी। हमने उसे चलना सिखाया…और वो हमें रौंदते चला गया। एक बार पुन: पुनर्गठन,आत्मविश्वास व सबके सहयोग की अप्रतिम शक्ति से ईद की मुबारकबाद।jagran

सीतापुर जेल में करीब 26 महीने से बंद आजम खां के खिलाफ मुसलमान नेताओं ने अखिलेश यादव के खिलाफ जो माहौल बनाया है, शिवपाल सिंह यादव भी उसका लाभ लेने के प्रयास में हैं। एक बीते दिनों सीतापुर जेल में आजम खां के साथ उनकी भेंट काफी चर्चा में थी। उनके पास उनके खास माने जाने वाले कांग्रेस के नेता आचार्य प्रमोद कष्णम भी आजम खां से मिले थे। माना जा रहा है कि शिवपाल सिंह यादव की मदद से आजम खां प्रदेश में बड़ा मोर्चा भी खड़ा कर सकते हैं।  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

2 × five =

Back to top button