न्यूयॉर्क के बफेलो में एक सुपरमार्केट में अंधाधुंध गोलीबारी से 10 लोगों की हुई मौत,अधिकारियों ने बंदूकधारी को किया गिरफ्तार

अमेरिकी शहर बफेलो में एक सुपरमार्केट में अंधाधुंध गोलीबारी के दौरान करीब 10 लोगों के मारे जाने की खबर है। पुलिस के हवाले से दी गई जानकारी के मुताबिक बाडी आर्मर पहने एक व्यक्ति दोपहर करीब 2.30 बजे दाखिल हुआ। जहां उसने अंधाधुंध गोलीबारी की वारदात को अंजाम दिया, जिसमें 10 लोग मारे गए और तीन गंभीर रूप से घायल हैं। जानकारी के अनुसार आरोपी किराना स्टोर पर हमले का लाइव-स्ट्रीम कर रहा था जिसके बाद अधिकारियों ने बंदूकधारी को गिरफ्तार कर लिया है।

मौक पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने गोलीबारी की इस वारदात को नस्लवाद से प्रेरित हिंसक घटना बताया है। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक आरोपी द्वारा निशाना बनाए गए कुल 13 लोगों में 11 अश्वेत थे। पुलिस ने बताया कि आरोपी भारी हथियारों से लैस था और वो वारदात को अंजाम देने के लिए पूरी तैयारी कर के आया था।

वारदात की जांच कर रहे एफबीआई एजेंट स्टीफन बेलोंगिया ने बताया कि हमले की जांच हेट क्राइम और नस्लवाद से प्रेरित हिंसक घटना के तौर पर की जाएगी। आरोपी को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। जहां उसपर हत्या का मुकदमा चलाया जाएगा।

बफेलो शहर के मेयर ब्रायन ब्राउन ने संवाददाताओं से कहा, यह घटना हमारे समुदाय के लिए बहुत ही कष्टकारी है। हम में से कई लोग कई बार सुपरमार्केट के अंदर और बाहर रहते हैं। ऐसे में हम इस घृणित व्यक्ति को हमारे समुदाय या हमारे देश को विभाजित नहीं करने दे सकते। साथ ही उन्होंने बताया कि घटना को लेकर व्हाइट हाउस और न्यूयार्क के अटार्नी जनरल लेटिटिया जेम्स ने फोन वार्ता के जरिए जानकारी ली है।

न्यूयार्क डेमोक्रेट और हाउस ज्यूडिशियरी कमेटी के अध्यक्ष अमेरिकी प्रतिनिधि जेरी नाडलर ने कहा कि यह हमला एक हिंसक श्वेत वर्चस्ववादी का काम प्रतीत होता है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, हमें बिना देर किए घरेलू आतंकवाद निरोधक कानून पारित करना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 × five =

Back to top button