वेंकटेश प्रसाद हनुमान चालीसा का जाप करते हैं, यह बताते हैं कि उनके दैनिक जीवन का एक बड़ा हिस्सा कैसे रहा है

वेंकटेश प्रसाद हनुमान चालीसा का जाप करते हैं, यह बताते हैं कि उनके दैनिक जीवन का एक बड़ा हिस्सा कैसे रहा है

वेंकटेश प्रसाद ने सामाजिक तौर पर बताया कि कैसे हनुमान चालीसा उनके दैनिक जीवन का एक बड़ा हिस्सा रहा है और उन्होंने जीवन में उनकी मदद की है।

हनुमान जयंती के अवसर पर, जो भगवान हनुमान की जयंती का प्रतीक है, भारत के पूर्व क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद ने सामाजिक लोगों को बताया कि कैसे हनुमान चालीसा उनके दैनिक जीवन का एक बड़ा हिस्सा रही है और जीवन में उनकी मदद की है।

उन्होंने लिखा, नमस्कार, आपको बहुत बहुत शुभकामनाएं # हनुमानजन्मोत्सव। हनुमान चालीसा मेरे दैनिक जीवन का एक बड़ा हिस्सा रहा है और इसने मुझे बहुत ताकत दी है। मैं प्रार्थना करता हूं कि भगवान हनुमान के आशीर्वाद से हम अपने राष्ट्र की प्रगति में आने वाली सभी बाधाओं को दूर कर सकें।

हनुमान जयंती हर साल चैत्र महीने की पूर्णिमा को मनाई जाती है। ऐसा माना जाता है कि हनुमान का जन्म इसी तिथि को हुआ था। मंगलवार को भगवान बजरंगबली का दिन माना जाता है। मंगलवार को हनुमान जयंती इसे और भी खास बनाती है।

हनुमान जयंती साल में दो बार मनाई जाती है। पहली बार, यह चैत्र माह के शुक्ल पूर्णिमा और दूसरे कार्तिक महीने के कृष्ण चतुर्दशी के दिन मनाया जाता है। हिंदू धर्म में हनुमान जयंती का विशेष महत्व है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन जो भी राम भक्त हनुमान की विधिपूर्वक पूजा करता है, उसकी कृपा हमेशा उस पर बनी रहती है।

बजरंगबली को राम का सबसे बड़ा और पसंदीदा भक्त माना जाता है। हनुमान जयंती पर रामचरितमानस, सुंदरकांड और हनुमान चालीसा का पाठ करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − eleven =

Back to top button