विदेश व्यापार नीति मार्च अंत तक मान्य, सरकार ने किया अधिसूचित

सरकार ने मौजूदा विदेश व्यापार नीति (FTP) की वैधता अगले वर्ष मार्च तक के लिए बढ़ा दी है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि हम मंगलवार तक इसे अधिसूचित कर देंगे। नए वित्त वर्ष में हम नई विदेश व्यापार नीति के साथ शुरुआत कर सकते हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले वर्ष मार्च अंत तक कोरोना संकट का समाधान निकल चुका होगा। गोयल ने उम्मीद जताई कि उस समय तक कोविड-19 की समस्या का समाधान हो जाएगा।

सरकार ने इससे पहले 31 मार्च, 2020 को कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप और लाकडाउन के बीच विदेश व्यापार नीति 2015-20 को 31 मार्च, 2021 तक और फिर 30 सितंबर, 2021 तक के लिए बढ़ाया था। विदेश व्यापार नीति आर्थिक विकास को बढ़ावा देने और रोजगार के मौके तैयार करने के लिए निर्यात बढ़ाने को लेकर दिशानिर्देश उपलब्ध कराती है। वाणिज्य मंत्रालय एवं फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट आर्गनाइजेशंस (फियो) के कार्यक्रम में गोयल ने कहा कि हम कोरोना संकट से अभी तक उबर नहीं पाए हैं और बहुत से पक्षों से चर्चा अभी बाकी है।

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि हम इसे अधिसूचित कर रहे हैं। हमने 31 मार्च (2022) तक नीति का विस्तार करने का फैसला किया है … और (नए) वित्त वर्ष में हम नई नीति के साथ शुरुआत कर सकते हैं। गोयल ने कहा कि अप्रैल- 21 सितंबर, 2021 की अवधि में देश का निर्यात 185 अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − three =

Back to top button