लोजपा नेता चिराग पासवान अपने पिता की पहली बरसी पर आने वाले 12 सितंबर को पटना में करने वाले हैं ये बड़ा आयोजन

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने राज्य सरकार के प्राविधिक शिक्षा विभाग (डिप्लोमा सेक्टर) के अंतर्गत राजकीय पालटेक्निक संस्थाओं में प्रधानाचार्य और प्रवक्ता पदों पर भर्ती विज्ञापन संख्या – 02/2017-18 को रद्द कर दिया है। आयोग द्वारा मंगलवार, 7 सितंबर 2021 को जारी नोटिस के अनुसार प्रधानाचार्य, कर्मशाला अधीक्षक, पुस्तकालयाध्यक्ष और प्रवक्ता (28 प्रकार) के कुल 1370 पदों पर भर्ती के लिए अधिसूचना फिर से जारी की जाएगी। वहीं, विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार आयोग द्वारा इन पदों के लिए नई अधिसूचना एक सप्ताह में जारी की जा सकती है।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के सचिव से प्राप्त जानकारी के आधार पर प्रकाशित मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) द्वारा इन पदों के निर्धारित नियमों में संशोधन किये जाने से भर्ती प्रक्रिया को निरस्त किया गया है। हालांकि, इस बीच भर्ती के लिए आवेदन किये उम्मीदवारों के ओवर-एज हो जाने पर उनकी उम्मीदवारों को लेकर स्थिति फिलहाल स्पष्ट नहीं है। माना जा रहा है कि आयोग द्वारा जारी होने वाली नई अधिसूचना में इस सम्बन्ध में अपडेट जारी किया सकता है।

आयोग द्वारा पूर्व भर्ती विज्ञापन संख्या – 02/2017-18 में प्रधानाचार्य की 13 रिक्तियां निकाली गयी थीं, जबकि विभिन्न विषयों के प्रवक्ताओं के कुल 1248 रिक्तियां थीं। इनमें से यांत्रिक अभियंत्रण की 261, विद्युत अभियंत्रण की 230, सिविल अंभियंत्रण की 133, इलेक्ट्रॉनिक्स अभियंत्रण की 120, कंप्यूटर की 132 रिक्तियों समेत अन्य विषयों के लिए रिक्तियां घोषित की गयी थीं।

उत्तर प्रदेश प्राविधिक शिक्षा विभाग (डिप्लोमा सेक्टर) के अंतर्गत राजकीय पालटेक्निक संस्थाओं में प्रधानाचार्य और प्रवक्ता पदों पर भर्ती विज्ञापन संख्या – 02/2017-18 के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया 25 जनवरी 2018 तक चली थी। वहीं, ऑनलाइन आवेदन प्राप्त करने की अंतिम तिथि 7 फरवरी 2018 थी। परीक्षा के लिए 105 रुपये आवेदन शुल्क निर्धारित था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − one =

Back to top button