ये ड्राईफ्रूट आपको रखेगा हेल्दी, जानिए इसके फायदे

अंजीर को अंग्रेजी में figs कहते हैं। अंजीर को हम फल और ड्राईफ्रूट दोनों तरह से खा सकते हैं। अंजीर एक बेहद मीठा फल है क्योंकि इसमें नैचरल शुगर की मात्रा भी बहुत होती है और यह ऐंटिऑक्सिडेंट का भी बेहतरीन सोर्स है जिस वजह से यह हमें सेहतमंद रखने में मदद करता है। अंजीर में विटमिन ए, सी, के, बी के साथ-साथ पोटैशियम, मैग्नीशियम, जिंक, कॉपर, मैंगनीन, आयरन और कैल्शियम पाया जाता है। 100 ग्राम सूखे हुए अंजीर में 209 कैलरी, 4 ग्राम प्रोटीन, 1.5 ग्राम फैट, 48.6 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 9.2 ग्राम फाइबर होता है। वहीं, 100 ग्राम ताजे अंजीर में 43 कैलरी, 1.3 ग्राम प्रोटीन, 0.3 ग्राम फैट, 9.5 ग्राम कार्बोहाइड्रेट और 2 ग्राम फाइबर होता है। आज हम आपको बताएंगे अंजीर खाने के उन फायदों के बारे में जो आपको सालभर हेल्दी रखने में मदद करेंगे।

वजन घटाने और पाचन को दुरुस्त करता है अंजीर

फाइबर पाचन के लिए फायदेमंद होने के साथ कैंसर और टाइप 2 शुगर के रिस्क को कम करता है। फाइबर पेट लंबे समय तक भरा रखने में मदद करता है। जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है।
अध्ययन के मुताबिक फाइबर युक्त खाने से कैलोरी को कम करने में मदद मिलती है। वहीं सूखे अंजीर में कैलोरी भी अधिक ज्यादा होती है, इसलिए सुनिश्चित करें कि आप नियमित रूप से कम मात्रा में इसका सेवन करें। अंजीर में मौजूद हाई फाइबर कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। अच्छे पाचन तंत्र के लिए नियमित रूप से फाइबर का सेवन जरूरी है। ये पाचन को आसान बनाते हैं।

हार्ट के लिए फायदेमंद अंजीर

शरीर में फ्री रैडिकल्स बनने पर हार्ट में मौजूद कोरोनरी धमनियां जाम हो जाती हैं और हार्ट से जुड़ी बीमारियां होने लगती हैं। ऐसे में अंजीर में मौजूद ऐंटिऑक्सिडेंट गुण इन फ्री रैडिकल्स को खत्म कर हार्ट को सुरक्षित रखता है। इसके अलावा अंजीर में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी ऐसिड (Omega 6 Fatty Acid) गुण भी होते हैं, जो आपके हार्ट को हेल्दी रखने में मदद करते हैं।

अंजीर ब्लड प्रेशर को रखता कंट्रोल

अंजीर पोटेशियम का अच्छा स्रोत है। पोटेशियम एक महत्वपूर्ण मिनरल है, जो शरीर के लिए जरूरी है और इसके नियमित सेवन से ब्लड प्रेशर को बनाए रखने में मदद मिलती है क्योंकि यह सोडियम के हानिकारक प्रभावों को नकारता है। पोटेशियम से भरपूर डाइट का सेवन करने से ब्लड फ्लो और पाचन संबंधी विकारों में भी मदद मिल सकती है। अध्ययन के अनुसार डायबिटीज वाले व्यक्तियों के लिए, पोटेशियम से भरपूर आहार लेने से आपको हृदय और किडनी की बीमारियों से बचाने में मदद मिल सकती है।

अंजीर कलेस्ट्रॉल लेवल को करे कम

अंजीर में पेक्टिन नाम का सॉल्युबल फाइबर होता है जो खून में मौजूद बैड कलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करने के लिए जाना जाता है। साथ ही अंजीर का फाइबर गुण पाचन तंत्र से भी एक्स्ट्रा कलेस्ट्रॉल को साफ कर सकता है।

कब्ज दूर करता है अंजीर

अंजीर का सेवन करने से कब्ज की समस्या दूर हो सकती है और पाचन तंत्र अच्छी तरह काम करने लगता है। अंजीर में पर्याप्त मात्रा में डाइट्री फाइबर पाया जाता है। इसलिए अंजीर खाने से पेट साफ करने में मदद मिलती है। पाचन तंत्र को बेहतर करने के लिए 2-3 अंजीर को रातभर के लिए पानी में भिगोकर रख दें और अगली सुबह खा लें।

हीमॉग्लोबिन के स्तर को बढ़ाता है अंजीर

शरीर में जब आयरन की कमी हो जाती है तो व्यक्ति अनीमिया का शिकार हो जाता है। सूखे अंजीर को आयरन का मेन सोर्स माना जाता है। इसके सेवन से शरीर में हीमॉग्लोबिन का स्तर बढ़ता है। अंजीर खाने से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ सकती है और शरीर किसी भी तरह की बीमारी से लड़ने में सक्षम हो जाता है।

हड्डियों के लिए फायदेमंद अंजीर

अंजीर में कैल्शियम (Calcium), पोटैशियम (Potassium) और मैग्नीशियम (Magnesium) भरपूर मात्रा में होता है और ये सभी चीजें हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए जरूरी मानी जाती हैं। कैल्शियम से भरपूर अंजीर, हड्डियों को स्ट्रॉन्ग बनाने में मदद करता है जिससे हड्डी टूटने का खतरा कम हो जाता है। मिनरल्स की दैनिक जरूरत को पूरा करने के लिए शरीर को रोजाना 1000 एमजी कैल्शियम की जरूरत होती है।
अधिक सेवन से हो सकती है परेशानी

अंजीर के नुकसान ढ़ूंढना मुश्किल है, लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से पेट दर्द जैसी समस्या हो सकती है। वहीं सूखे अंजीर में सल्फाइट होता है और इसका अधिक सेवन माइग्रेन अटैक बढ़ा सकता है। अगर आपको माइग्रेन की समस्या है, तो अंजीर का संवन डॉक्टर की सलाह पर कर सकते हैं। कई रिपोर्ट्स के मुताबिक अंजीर खाने से पथरी की समस्या हो सकती है। अंजीर में ऑक्सलेट नामक तत्व होते हैं, ऐसे में अंजीर खाने से गुर्दे की समस्या हो सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

10 − 7 =

Back to top button