यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तीन दिवसीय दौरे पर इटावा के अतिथिगृह राजा सुमेर सिंह किला में कर रही प्रवास

तीन दिवसीय इटावा प्रवास के दूसरे दिन गुरुवार की सुबह राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सफारी पार्क पहुंच गई हैं। यहां ई-कार से ईको पर्यटन केंद्र का भ्रमण किया और वन्य जीवों की प्रदर्शनी की सराहना की। इसके अलावा लायन सफारी में शेरों को भी देखा और व्यवस्थाओं की जानकारी ली। राज्यपाल के आगमन को लेकर यहां सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहे और प्रशासनिक अफसरों का अमला डेरा जमाए रहा।

यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल बुधवार की शाम इटावा पहुंच गई थीं, उन्हें अतिथिगृह राजा सुमेर सिंह किला में ठहराया गया है। यहां पर वह शुक्रवार की शाम तक प्रवास करेंगी। अपने तय कार्यक्रम के तहत गुरुवार की सुबह दस बजे राज्यपाल आनंदी बेन पटेल सबसे पहले इटावा सफारी पार्क पहुंचीं। यहां पर इलेक्ट्रिक गाड़ी से ईको पर्यटन सेंटर का भ्रमण किया और विभिन्न वन्य जीवों की प्रदर्शनी देखी। इसे देखने के बाद राज्यपाल ने तारीफ की और उन्होंने सफारी के अधिकारियों से जानकारियां भी ली। प्रदर्शनी देखने के बाद वह ई-कार से लायन सफारी पहुंचीं और गुजरात से आए शेरों को भी देखा। राज्यपाल ने उनके रख-रखाव के बारे में सफारी निदेशक केके सिंह व उपनिदेशक अरुण सिंह से पूछताछ की।

jagran

राज्यपाल ने करीब एक घंटे तक सफारी पार्क का भ्रमण किया, उनके मार्ग पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किये गये थे। इससे पहले उन्होंने वन विभाग के अतिथिगृह में पारिजात का पौधा रोपकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। यहां पर जिलाधिकारी श्रुति सिंह, एसएसपी डा. बृजेश कुमार सिंह, एसडीएम सदर सिद्धार्थ भी मौजूद रहे। राज्यपाल ने दतावली गांव में आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया और पांच-पांच महिलाओं को अन्न प्रासन व गोदभराई कार्यक्रम का लाभ दिया। यहां पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को किट भी प्रदान की।

राज्यपाल का आज का कार्यक्रम

सुबह 9:05 बजे आगमन इटावा सफारी पार्क

सुबह 10:40 बजे प्रस्थान इटावा सफारी पार्क

सुबह 10:55 बजे आगमन दतावली ब्लाक बसरेहर आंगनबाड़ी केंद्र

सुबह 11:25 बजे आगमन इटावा क्लब आंगनबाड़ी कार्यक्रम

दोपहर 12:20 बजे आगमन प्रेरणा हाल विकास भवन

दोपहर 1:35 बजे आगमन अतिथिगृह राजा सुमेर सिंह किला

दोपहर 2:50 बजे आगमन पुलिस लाइंस महिला थाना

दोपहर 3:30 बजे आगमन प्रेरणा हाल विकास भवन में महिला गोष्ठी के लिए

शाम 4:25 बजे आगमन कृषि विज्ञान केंद्र

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − 6 =

Back to top button