मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन

मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का आज लंबी बीमारी के बाद लखनऊ के मेदांता अपस्ताल में निधन हो गया। लालजी टंडन पिछले कई दिनों से बीमार चल रहे थे और मेदांता अस्पताल में भर्ती थे। उन्हें लगातार वेंटिलेटर के सपोर्ट से रखा गया था। आज उन्होंने अंतिम साँस ली। यह जानकारी उनके बेटे आशुतोष टंडन ने दी। उन्होंने अपने ट्विट पर लिखा “बाबूजी नहीं रहे”। लालजी टंडन का मेदांता अस्पताल में करीब डेढ़ महीने से इलाज चल रहा था। लालजी टंडन की किडनी और लिवर में दिक्कत के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

लालजी टंडन को बीते 11 जून को सांस लेने में परेशानी, बुखार और पेशाब में दिक्‍कत आने के बाद अस्‍पताल में भर्ती किया गया था। टंडन की तबीयत खराब होने की वजह से उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्‍य प्रदेश का अतिरिक्‍त कार्यभार सौंपा गया है। मूल रूप से उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय रहने वाले टंडन प्रदेश की बीजेपी सरकारों में कई बार मंत्री भी रहे। लालजी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के सहयोगी के रूप में जाने जाते रहे। लालजी ने अटल बिहारी वाजपेयी के चुनाव क्षेत्र लखनऊ की कमान संभाली थी और उनके निधन के बाद लखनऊ से ही 15वीं लोकसभा के लिए भी चुने गए।

 
बिहार और मध्य प्रदेश के गवर्नर रहे

लालजी टंडन को 2018 में बिहार का गवर्नर बनाया गया था। इसके बाद 2019 में उन्हें मध्य प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया गया था। लखनऊ में लालजी टंडन की लोकप्रियता समाज के हर समुदाय में थी। 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर दुख जताते हुए कहा, “हमने एक दिग्गज नेता को खो दिया है, मैं उनकी मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त करता हूं,उनके परिवार और दोस्तों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना है।”

उनके निधन पर पीएम मोदी ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि “श्री लालजी टंडन को समाज की सेवा के उनके अथक प्रयासों के लिए याद किया जाएगा। उन्होंने उत्तर प्रदेश में भाजपा को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने एक प्रभावी प्रशासक के रूप में अपनी पहचान बनाई और हमेशा लोक कल्याण को महत्व दिया। उनके निधन से मैं दुखी हूं”।

उनके निधन पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि “म.प्र. के मा. राज्यपाल श्री लालजी टंडन जी के निधन की खबर सुनकर शोक हुआ। उनके निधन से देश ने एक लोकप्रिय जननेता, योग्य प्रशासक एवं प्रखर समाज सेवी को खोया है। वे लखनऊ के प्राण थे। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शान्ति हेतु प्रार्थना करता हूँ। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं”।

उनके निधन पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि “मध्यप्रदेश के गवर्नर व यूपी में बीजेपी की सरकार में कई बार वरिष्ठ मंत्री रहे श्री लालजी टण्डन, जो काफी सामाजिक, मिलनसार व संस्कारी व्यक्ति थे, उनका इलाज के दौरान आज लखनऊ में निधन होने की खबर अति-दुःखद व उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना”।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nine + three =

Back to top button