ब्राजील में डेल्टा से खतरे के बीच कोरोना से होने वाली मौतों का आंकड़ा 6 लाख के पार 

ब्राजील के सबसे बड़े महानगर, साओ पाउलो में एक बार फिर से भरे हुए नजर आ रहे हैं और राजधानी में सांसदों ने जूम के माध्यम से चालू रखे हुए वीडियो सत्र को भी लगभग समाप्त कर दिया है। रियो डी जनेरियो के समुद्र तट भरे हुए हैं और सख्त शारीरिक दूरी पर केवल याद बनके रह गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के शुक्रवार को आधिकारिक बयान के अनुसार, यह कोरोना महामारी से खराब हुए हालात को फिर सामान्य स्थिति में लौटता हुए दिखाता है। यहां तक ​​कि महामारी से मृत्यु भी 600,000 के आंकड़े से ऊपर पहुंच गई है।

देश COVID-19 मामलों और मौतों दोनों में राहत का स्वागत कर रहा है और जश्न के मूड में है। हालांकि, विशेषज्ञों की डेल्टा संस्करण को लेकर चेतावनी है, जिसमें कहा गया है कि वह अधिक खतरे को दिखाता है व देश में विनाश की एक और लहर पैदा कर सकता है।

अप्रैल में 3,000 से अधिक मौतों को तेजी से कम होते देखा गया। यहां तक कि देश में औसत दैनिक मृत्यु दर एक महीने के लिए लगभग 500 हो गई है। लगभग 45 फीसद आबादी पूरी तरह से टीकाकृत है और बुजुर्गों को बूस्टर शाट दिया जा रहा है। एक आनलाइन शोध साइट, अवर वर्ल्ड इन डेटा के अनुसार, अमेरिकियों या जर्मनों की तुलना में ब्राजीलियाई लोगों का एक बड़ा फीसद समूह टीका लगवा चुका है।

सुधार को देखते हुए महापौरों और राज्यपालों को फुटबाल मैचों में प्रशंसकों को स्वीकार करने के लिए सोचना पड़ा और बार और रेस्तरां को देर रात तक खुला रहने दे भी आदेश दिए गए हैं। कुछ तो मास्क लगाने के आदेश को समाप्त करने पर भी विचार कर रहे हैं, जिसे लोग अक्सर पहले ही नजरअंदाज कर रहे हैं। और रियो के मेयर ने कोपाकबाना समुद्र तट पर शहर की विशाल नव वर्ष की पूर्व संध्या पार्टी को करने की योजना की घोषणा की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × three =

Back to top button