बैंगन से भारतीयों का है खास रिश्ता, दिल और कैंसर जैसे रोगों से लड़ने में है सक्षम, पढिए बैंगन के फायदे

भर्ता हो या बैंगन की सब्जी, दोनों ही लाजवाब होती है। आज बात कर रहे है हम बैंगन की जिसको अंग्रेजी में ‘बृंजल’ कहा जाता है। आपको बता दे बैंगन से ही बैंगनी रंग का नाम पड़ा है। हमारे पड़ोसी देश चीन और श्रीलंका में बैंगन बड़े ही चाव से खाया जाता है।

बैंगन की खेती के लिए भारत प्रसिद्ध है। बैंगन एक शुद्ध देसी सब्जी है जिसके अपने ही कुछ खास फायदे है। कुछ जानकार लोग कहते हैं कि शुरू से ही बैंगन भारत में ही पाया गया है। आज बेंगन की कई प्रजातीय मशहूर है और दुनियाभर में लोग बेंगन खाना बेहद पसंद करते है। परसियन लोग इसे अफ्रीका लेकर गए थे और अरब लोगों ने स्पेन में इसे पहुंचाया। माना जाता है कि स्पेन से ही बैंगन ने यूरोप का रास्ता लिया। बेंगन की पैदावार गर्म स्थानो पर ज्यादा होती है। बंगाल से लेकर नॉर्थ हो या बिहार बेंगन हर जगह खाया जाता है और इसे पसंद भी काफी किया जाता है। बंगाल का बैगुन भाजा हो या नॉर्थ में बैंगन का भर्ता या बिहार का चोखा। दक्षिण में सांभर में भी बेंगन डाल कर सांभर का स्वाद बढ़ाया जाता है बेंगन की आचार और चटनी भी काफी प्रसिद है लोग काफी पसंद करते है इसको इसीलिए इसको सब्जियों के राजा का भी खिताब दिया गया है। कुछ लोगो को बेंगन से एलर्जी भी होती है, यदि आपको बेंगन से किसी भी प्रकार की एलर्जी है तो बेंगन का सेवन न करे।

बैंगन के फायदे

बैंगन हाई फाइबर डाइट हाई जो के खाना पचाने के लिए काफी मददगार है। बेंगन कई गुणो से भरा है जैसे विटामिन सी, के, बी6, मैग्निशिमय, फॉस्फोरस, कॉपर, फाइबर, पोटैशियम और फॉलिक एसिड जैसे कई गुण है इसमे।

बीमारियों से रखे दूर

बैंगन आप को कई बीमारियों से दूर रखता है। दिल से संबन्धित बीमारियों की अवस्था में भी बैंगन काफी मददगार है। बेंगन में ऐसे एंटीआक्सिडेंट्स है जो कैंसर जैसे रोगों से लड़ने में सक्षम है। बेंगन शरीर की हड्डियों को भी मजबूत    करता है। कुछ लोगो का माना है की गर्भवती महिलाओ को बेंगन का सेवन नहीं करना चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty + six =

Back to top button