बेखौफ हत्यारे को सुनिये….कैसे पकड़ा गया हत्यारा विकास दुबे?

कानपुर में आठ पुलिसवालों की हत्या का मुख्य आरोपी विकास दुबे उज्जैन में महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार हो गया है। बताया जा रहा है कि महाकाल के दर्शन के लिए वहां पहुंचा विकास दुबे जब दर्शन के लिए जा रहा था तो वहां तैनात एक सुरक्षा गार्ड ने उसे रोक लिया, क्योंकि उसके पास कोई पहचान पत्र नहीं था। जब उसे मंदिर परिसर के बाहर लाया गया तो वह वहां पर दुकानदारों से चिल्ला-चिल्लाकर कहने लगा “मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला। वह आत्मसमर्पण करना चाहता था। विकास दुबे की मध्य प्रदेश में गिरफ्तारी से उत्तर प्रदेश का पुलिस महकमा सकते में है।

यूपी के सीएम ने एमपी से क्या बात की? 

खबर है कि विकास दुबे की उज्जैन में जिस तरह से गिरफ्तारी हुई है उससे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नाराज है। योगी आदित्यनाथ ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान से टेलीफोन पर बातचीत के दौरान गहरी नाराजगी जताई है। ऐसा माना जा रहा है कि बहुत ही सुनियोजित तरीके से गुप-चुप ढंग से विकास दुबे का उज्जैन के महाकाल मंदिर में लोगों की भीड़ के बीच पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कराया गया।

क्या थी विकास के सरेंडर की योजना?

विकास दुबे ने पहले दिल्ली की किसी कोर्ट में आत्मसमर्पण कराने की योजना बनायी गई थी लेकिन चूंकि उसके खिलाफ दिल्ली में कोई केस दर्ज नहीं था इसलिए विकास दुबे की यह योजना सफल नहीं हो सकी उसके बाद उसने टीवी चैनल पर लाइव बैठकर अपनी गिरफ्तारी की भी योजना बनाई लेकिन उत्तर प्रदेश पुलिस और एसटीएफ की सख्ती से यह योजना भी फेल हो गई। उसके बाद विकास ने उज्जैन में लोगों की भीड़ के बीच आत्मसमर्पण कराने की योजना बनाई।

बड़ा सवाल, विकास कैसे उज्जैन पहुंच गया?

लेकिन अब सबसे बड़ा सवाल भी उठ रहा है कि आखिरकार विकास दुबे फरीदाबाद से उज्जैन पहुंचा कैसे। कौन है जो विकास दुबे की मदद कर रहा था? अपराधी विकास दुबे की आखिरी लोकेशन औरेया बताई गई थी। जिससे पुलिस को शक था कि विकास  बीहड़ क्षेत्र की तरफ भाग सकता था। लेकिन विकास दुबे उत्तर प्रदेश का बॉर्डर पार करके फरीदाबाद पहुंच गया। और आज सुबह अपराधी विकास दुबे मध्य प्रदेश के उज्जैन से पकड़ गया।

विकास दुबे पर राजनीतिक प्रतिक्रिया, सीबीआई जांच की मांग

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी सवाल उठाए हैं अखिलेश यादव ने योगी सरकार से विकास दुबे के मोबाइल की CDR सार्वजनिक करने की मांग है जिससे सच्चाई का भंडाफोड़ हो सके। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी सरकार से मामले की CBI जांच करा सभी तथ्यों और प्रोटेक्शन के ताल्लुकातों को जगज़ाहिर करने की मांग की है।  

विकास दुबे कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों को मारकर फरार हो गया था। यूपी पुलिस और एसटीएफ लगातार प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों और दूसरे राज्यों में विकास दुबे की तलाश में पिछले सात दिन से जुटी थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 4 =

Back to top button