पीएम मोदी का स्वागत करने पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी तथा ताला उद्योग के लिए विख्यात अलीगढ़ को मंगलवार को दो नायाब तोहफे देंगे। प्रधानमंत्री अलीगढ़ में करीब दो घंटे के दौरे में राजा महेन्द्र सिंह राज्य विश्वविद्यालय का शिलान्यास करने के साथ डिफेंस यूपी कारिडोर अलीगढ़ नोड के कार्य की प्रगति की समीक्षा भी करेंगे। कार्यक्रम स्थल अलीगढ़ शहर से छह किलोमीटर की दूरी पर है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अलीगढ़ पहुंचे, सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया स्वागत

प्रधानमंत्री नरेनद्र मोदी बड़ी सौगात देने हेलीकॉप्टर से अलीगढ़ पहुंचे हैं। उनका हवाई पट्टी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने स्वागत किया। कार्यक्रम स्थल पर बने मंच पर सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम डाक्टर दिनेश शर्मा, प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह के साथ भाजपा उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह पहुंच चुके हैं।

पीएम मोदी का स्वागत करने पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, कुछ देर में पहुंचेंगे प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अलीगढ़ आगमन से पहले ही उनके जोरदार स्वागत की तैयारी है। सीएम योगी आदित्यनाथ व डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा मंत्रिमंडल के सहयोगियों, सांसद तथा विधायकों के साथ पीएम नरेन्द्र मोदी का स्वागत करने के लिए अलीगढ़ की हवाई पट्टी पर मौजूद हैं। पुलिस ने यहां पर सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की है। अलीगढ़ ही नहीं पास के जिलों में सुरक्षाकर्मी काफी मुस्तैद हैं। प्रधानमंत्री अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय का शिलान्यास करने के साथ ही यूपी डिफेंस कारिडोर के अलीगढ़ नोड की कार्य प्रगति की समीक्षा करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वायुसेना के हेलीकाप्टर से 11 बजकर 30 मिनट पर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे। मंच से ही बटन दबाकर राज्य विश्वविद्यालय की कार्य प्रगति व डिफेंस कारिडोर का शिलान्यास करेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अलीगढ़ के गांव मूसेपुर में मंगलवार को सुबह 12:20 बजे राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के साथ डिफेंस यूपी कारिडोर अलीगढ़ की कार्य प्रगति की समीक्षा करेंगे। अलीगढ़ आगमन पर सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा, योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल के सहयोगी तथा अलीगढ़ के सांसद पीएम मोदी का स्वागत करेंगे। इस समारोह में आगरा-अलीगढ़ मंडल के करीब डेढ़ लाख लोगों के शामिल होने की संभावना है।

 लगेगा चुनावी माहौल का अंदाजा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस कार्यक्रम से उत्तर प्रदेश के चुनावी माहौल का भी अंदाजा लगेगा। चुनावी रंग में पीएम मोदी विकास के साथ ही दिख सकते हैं। वह अलीगढ़ की भूमि से पांचवी बार जनता को संबोधित करेंगे। पीएम नरेन्द्र मोदी का जाट बहुल क्षेत्र में यह पहला कार्यक्रम है। इससे पहले अलीगढ़ में पीएम मोदी तीन बार तो नुमाइश मैदान में आए थे।

विश्वविद्यालय की नई डिजाइन तैयार, दो वर्ष में होगा निर्माण

अलीगढ़ के राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय के भवन की नई डिजाइन तैयार हो गई है। इसे अब सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी देखकर संतुष्टि जताई। पूर्व में तैयार की गई डिजाइन उन्हेंं ठीक नहीं लगी थी। उन्होंने महल की तरह बनाने के निर्देश दिए थे। नई डिजाइन लोक निर्माण विभाग ने नोएडा की एक एजेंसी से बनवाई है। इसे उच्च शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव मोनिका एस गर्ग सहित अन्य अधिकारियों ने सीएम को दिखाया। विश्वविद्यालय का मुख्य द्वार विशाल होगा। अंदर जाने वाला रास्ते के दोनों ओर हरियाली होगी। मुख्य द्वार पर नक्काशी रहेगी। इस विश्वविद्यालय की घोषणा 2017 में इगलास विधानसभा क्षेत्र के उपचुनाव से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने की थी। देश की आजादी के लिए अपना जीवन कुर्बान करने वाले राजा महेंद्र प्रताप के नाम कोई इमारत व स्मारक न होने के चलते उनके नाम से विश्वविद्यालय का नाम रखा गया।

राज्य विश्वविद्यालय : एक नजर

  • -शिलान्यास समारोह के दौरान राज्य विश्वविद्यालय को लेकर बनी तीन मिनट की वीडियो फिल्म दिखाई जाएगी।
  • -94 एकड़ जमीन पर लोधा ब्लाक के गांव मूसेपुर में होगा निर्माण।
  • -101 करोड़ का बजट जारी कर चुकी है प्रदेश सरकार।
  • -2023 तक इसका निर्माण पूरा होना है।
  • -400 के करीब महाविद्यालय इस विश्वविद्यालय से संबद्ध होंगे।

डिफेंस यूपी कारिडोर अलीगढ़ नोड

  • -डिफेंस कारिडोर की प्रगति व कार्यों पर बनी वीडियो फिल्म भी दिखाई जाएगी। इसके बाद मुख्यमंत्री का भी संबोधन होगा।
  • -1000 एकड़ में खैर रोड पर अंडला में विकसित होगा कारिडोर।
  • -चार साल पहले केन्द्र सरकार ने अलीगढ़ समेत सूबे के छह शहरों में कारिडोर विकसित करने की घोषणा की थी।
  • -100 हेक्टेअर जमीन का अब तक हो चुका है अधिग्रहण, यूपीडा को इसे विकसित करने की जिम्मेदारी मिली है।
  • – छह हजार करोड़ का यहां पर निवेश होने की संभावना है। इसमें रक्षा हथियारों से जुड़े कलपुर्जे तैयार किए जाएंगे। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × 2 =

Back to top button