पंचायत चुनाव और होली के पहले आए नए आबकारी नियम…शराब खरीदते समय इस नए नियम का पालन नहीं किया तो हो सकती है कार्रवाई

पंचायत चुनाव और होली के पहले आए नए आबकारी नियम

उत्तरप्रदेश में शराब बिक्री को लेकर सख्त निर्देश जारी

तय सीमा से अधिक शराब बिक्री पर होगी कार्रवाई

शराब स्टॉक रखने पर भी कार्रवाई की जाएगी

तय सीमा से अधिक शराब मिलने पर होगी FIR

पर्सनल बार लाइसेंस को लेकर भी नियम सख्त

लाइसेंस के लिए 5 साल के ITR की प्रति देनी होगी

मूल निवास के लिए ही पर्सनल बार लाइसेंस मिलेगा

गेस्ट हाउस, फॉर्महाउस के लिए नहीं मिलेगा लाइसेंस

21 वर्ष से कम का व्यक्ति नहीं खरीद सकेगा शराब

उत्तर प्रदेश सरकार ने विभिन्न प्रकार की मदिरा की फुटकर बिक्री की सीमा का निर्धारण करते हुये अधिसूचना के मुताबिक अब कोई व्यक्ति एक समय में देशी मदिरा (सादा) की 200 एम.एल. धारिता वाली 5 बोतलें और देशी मदिरा (मसाला) की 200 एम.एल. धारिता वाली 5 बोतलें अथवा विदशी मदिरा (भारत में भरी हुई/भारत में निर्मित) 1.5 लीटर, समुद्रपार आयातित विदेशी मदिरा 1.5 लीटर, भारत में भरी वाइन 02 लीटर, समुद्रपार आयातित वाइन 02 लीटर,  भारत में भरी बीयर 06 लीटर, समुद्रपार आयातित बीयर 06 लीटर, अन्य प्रकार की भारतीय  से आयातित मदिरा 1.5 लीटर, एल.ए.बी. 06 लीटर से अधिक अपनी अभिरक्षा में नहीं रख सकेगा। 

यह जानकारी अपर मुख्य सचिव, आबकारी संजय आर. भूसरेड्डी ने दी। उन्होंने बताया कि इस अधिसूचना का उल्लंघन किये जाने पर संबंधित के विरूद्ध संयुक्त प्रांत आबकारी अधिनियम, 1910 की धारा-60 के अंतर्गत कार्यवाही की जायेगी, जिसमें 03 वर्ष तक का कारावास और मदिरा में सन्निहित प्रतिफल शुल्क के 10 गुने तक अथवा रूपया 2000/- जो अधिक हो के अर्थदण्ड का प्राविधान है। इसके अतिरिक्त भारतीय दण्ड संहिता की सुसंगत धाराओं के अंतर्गत भी कार्यवाही की जा सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 10 =

Back to top button