तालिबान ने नया आदेश किया जारी, तस्वीरों के प्रयोग को बताया वर्जित

काबुल: तालिबान के कथित अधिकारियों की तरफ से एक फरमान जारी किया गया है, जिसमें इस्लामी कानून को मानते हुए तस्वीरों के प्रयोग को वर्जित किया गया है। इसमें कहा गया है कि मानव तस्वीर चाहे वो अपने शहीद नेता की ही क्यों न हो, उसे दीवारों, दफ्तरों, बाजार, सड़क और गाड़ियों वगैरह पर नहीं लगाया जा सकता।

तालिबान के इस कदम को तस्वीरों के ज़रिए अपनी नेगेटिव पब्लिसिटी से बचने का पैंतरा भी माना जा रहा है। क्योंकि कई जगहों पर तालिबान लड़ाकों ने खुद अपने नेताओं की तस्वीरों को लगवाया है। इसके बाद आम लोगों में चिंता बढ़ गयी है कि क्या अब सोशल म‍ीडिया और इंटरनेट पर भी बैन लग सकता है।

इसके साथ ही तालिबानी आतंकवादी परिवार के पुरुष सदस्यों के साथ महिलाओं के यात्रा पर प्रतिबंध लगा रहे हैं। अफ़गानों को भागने में मदद करने वाले कुछ निजी समूहों ने कहा कि वे लोगों को सलाह दे रहे हैं कि वे देश की सीमाओं तक पहुंचने की कोशिश न करें, जब तक कि उन्हें पता न हो कि तालिबान उनका पीछा कर रहे हैं।

तालिबान ने अधिक चौकियां स्थापित की
पूर्व अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि काबुल हवाई अड्डे से अमेरिकी निकासी समाप्त होने के बाद से तालिबान ने उज्बेकिस्तान और ताजिकिस्तान की ओर उत्तर की ओर जाने वाली मुख्य सड़क पर अधिक चौकियां स्थापित की हैं।

तालिबान जल्द बनाएगा सरकार
एक अधिकारी ने कहा कि तालिबान और अन्य अफगान नेता समूह के शीर्ष आध्यात्मिक नेता के नेतृत्व में एक नई सरकार और कैबिनेट के गठन पर “आम सहमति” पर पहुंच गए हैं और घोषणा कुछ दिनों में आ सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × 5 =

Back to top button