जानिए किस समय पूजा न करे ,वरना होगा बड़ा पाप

मनुष्य पुराने समय से ही पूजा-पाठ करते आया हैं। जी हाँ और लगभग सभी लोग परिवार में शांति के लिए ईश्वर की पूजा करते हैं। जी दरअसल घर में सुबह और शाम दो समय तो पूजा होती है और अगर मंदिरों में देखा जाए तो वहा भी सुबह और शाम दोनों समय पूजा की जाती हैं। हालाँकि कुछ समय ऐसे होते हैं जब पूजा नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि अगर सही समय पूजा की जाए तो पूजा का अधिक शुभ फल मिलता हैं। अब हम आपको बताने जा रहे हैं पूजा कब नहीं करना चाहिए।

पूजा कब नहीं करनी चाहिए-
दोपहर 12 से 4 बजे के बीच पूजा नही करनी चाहिए।
रात को 12 बजे से 1 बजे के बीच पूजा नही करनी चाहिए।
सूतक के समय पूजा नही करनी चाहिए।
स्त्री के मासिकधर्म के दौरान पूजा नही करनी चाहिए।

पूजा कब करना चाहिए- अगर आप हनुमान जी पूजा करते है तो ऐसा माना जाता है की रात को 12 बजे से 1 बजे के बीच हनुमान जी की पूजा नही करनी चाहिए। ऐसा मन जाता है इस समय हनुमान जी लंका में होते है।

शाम को कितने बजे पूजा करनी चाहिए– शाम को सूर्यास्त के समय पूजा करनी चाहिए। सूर्यास्त का समय लगभग 6:30 बजे से 7:30 के बीच होता हैं।

सुबह कितने बजे पूजा करनी चाहिए- सुबह उठकर स्नान आदि करने के बाद 6 से 8 के बीच पूजा करना अधिक शुभ माना जाता हैं।

Related Articles

Back to top button