घर की सफाई करते समय रखें इन बातों का खास ध्यान…

This image has an empty alt attribute; its file name is jk-3.jpg



हिन्दू धर्म में धनतेरस और दिवाली की गणना महत्वपूर्ण त्योहारों में की जाती है। इन पर्वों में माता लक्ष्मी की पूजा से विशेष लाभ मिलता है। ऐसे में वास्तु शास्त्र में बताए गए कुछ चीजों का ध्यान जरूर रखना चाहिए।

दिवाली पर्व आने में ज्यादा दिन नहीं बचा है। ऐसे में घरों में माता लक्ष्मी के स्वागत के लिए साफ-सफाई भी तेज हो गई है। बता दें ज्योतिष शास्त्र में घर की साफ-सफाई के लिए कई उपाय बताए हैं। जिन्हें अपनानें से माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और अपनी कृपा भक्तों पर सदैव बनाए रखती हैं। ज्योतिष शास्त्र में घर की कुछ ऐसी दिशाओं के विषय में भी बताया है जहां साफ-सफाई रखने से भक्तों को विशेष लाभ होता है। आइए जानते हैं घर के किस हिस्से की सफाई रखने से माता लक्ष्मी होती हैं प्रसन्न।

घर के इन हिस्सों में रखें स्वच्छता का ध्यान

  • वास्तु शास्त्र के अनुसार घर या कार्यालय में इशान कोण को सबसे मुख्य स्थान माना जाता है। इस कोण में भगवान का वास होता है। इसलिए धनतेरस अथवा दिवाली से पहले घर के इस हिस्से की सफाई अच्छे से कर लें।
  • इस बात का ध्यान रखें कि इशान कोण में किसी भी प्रकार की अशुद्ध या फालतू चीजें ना रखें। ऐसा करने से माता लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं और घर से बिना आशीर्वाद दिए लौट जाती हैं। ऐसा न हो इसके लिए इशान कोण को साफ जरूर रखें।
  • इसके साथ घर में ब्रह्म स्थान की साफ-सफाई को भी बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। वास्तु शास्त्र में इस स्थान को भी फलदायी बताया गया है। इसलिए दिवाली से पहले ब्रह्मस्थान की साफ-सफाई करें और इस बात का ध्यान रखें कि यहां भारी फर्नीचर या कोई अनुपयोगी वास्तु न हो।
  • वास्तु शास्त्र में यह भी बताया गया है कि घर की पूर्व दिशा में साफ-सफाई रखना अत्यंत जरूरी है। इससे घर-परिवार में सकरात्मक उर्जा का संचार सदैव होता है। इसलिए धनतेरस के दिन पूजा-पाठ से पहले इस दिशा की भी अच्छे साफ-सफाई कर लें। बताए गए इन सभी स्थानों को साफ और शुद्ध रखने से देवी लक्ष्मी अत्यंत प्रसन्न होती हैं और सदैव अपना आशीर्वाद भक्तों पर बनाए रखती हैं।

Related Articles

Back to top button