गांधी जयंती 2021:महत्मा गांधी की 152वीं जयंती पर पढ़िए उनके ये अनमोल विचार

आज का दिन (2 अक्टूबर)  बहुत स्पेशल है. इस दिन को गांधी जयंती के रूप में मनाया जाता है. महात्मा गांधी देश के लोगों के लिए आदर्श हैं. उन्होंने सत्य, अहिंसा के मार्ग पर चलकर आजादी दिलाई. गांधी जी स्वतंत्रता सेनानी तो थे ही साथ में एक श्रेष्ठ विचारक भी थे. उनके विचार आज भी बहुत प्रासंगिक हैं. सरकारी दफ्तरों, स्कूलों और कॉलेजों में आपको गांधी के विचार लिखे मिल जाएंगे. कई विद्वान उनके विचारों को अपनी किताबों और भाषणों में भी शामिल करते हैं. गांधी जी के विचारों पर अमल किया जाए तो ये इंसान का जीवन बदल सकते हैं.

गांधी जयंती पर उनके कुछ अनमोल विचार हम आपको बताने जा रहे हैं. इन विचारों पर अमल करने से आप जीवन में बहुत कुछ हांसिल कर पाएंगे.

  1. जो आपने आज किया है वो आपके कल पर निर्भर करता है और आपका कल आपका भविष्य है इसलिए अपने आज पर पूरा ध्यान दो ताकि आपका भविष्य अच्छा बन सके.
  2. दुनिया में चाहे जितने भी विचार हों उनमें से बस एक ही जीवित रहेगा और वो है सच. 
  3. अपने आप को जानने के लिए सबसे अच्छा तरीका है दूसरों की सेवा करना.
  4. मेरा मन मेरा मंदिर हैं, मैं किसी को भी अपने गंदे पांव के साथ मेरे मन से नहीं गुजरने दूंगा.
  5. जब तक आप किसी को वास्तव में खो नहीं देते, तब तक आप उसकी अहमियत नहीं समझते.
  6. प्यार दुनिया की सबसे बड़ी ताकत है और प्यार को हम सिर्फ नरम व्यवहार से ही पा सकते हैं गुस्से से नहीं. प्यार से हम दुनिया की किसी भी चीज को जीत सकते हैं.
  7. अगर आप सच नहीं बोलेंगे तो आपकी पूरी दुनिया झूठी बन जाएगी और सब आपसे झूठ बोलेंगे अगर आप सच बोलेंगे तो सब आपसे सच बोलेंगे.
  8. पहले वो आपको अनदेखा करेंगे, उसके बाद आप पर हंसेंगे, फिर वो आप से लड़ेंगे, और तब आप जीत जायेंगे.
  9. अगर आप खुद को खोजना चाहते हैं तो सबसे बढ़िया तरीका है, आप दूसरों की सेवा में खुद को खो दो.
  10. सभी धर्म एक ही शिक्षा देते हैं, बस उनके दृष्टिकोण अलग-अलग हैं.
  11. इस तरह से जियें जैसे आप कल मरने वाले हैं. इस तरह से सीखें जैसे आप वर्षों जीवित रहने वाले हैं.
  12. आप अपनी विनम्रता द्वारा पूरी दुनिया को हिला सकते हैं.
  13. एक अच्छा इंसान सभी जीवों का मित्र होता है.
  14. कमजोर कभी क्षमा नहीं कर सकते, क्षमा तो ताकतवर व्यक्ति की विशेषता है.
  15. जिस दिन प्रेम की शक्ति, शक्ति के प्रति प्रेम पर हावी हो जाएगी, दुनिया में अमन आ जाएगा.
  16. जब तक गलती करने की स्वतंत्रता न हो, तब तक स्वतंत्रता का कोई अर्थ नहीं है.
  17. गुलाब को उपदेश देने की आवश्यकता नहीं होती है. वह तो केवल अपनी खुशी बिखेरता है. उसकी खुशबू ही उसका संदेश है.
  18. हम जिसकी पूजा करते हैं, उसी के समान हो जाते हैं.
  19. श्रद्धा का अर्थ है आत्मविश्वास और आत्मविश्वास का अर्थ है ईश्वर में विश्वास.
  20. कुछ लोग सफलता के केवल सपने देखते हैं जबकि अन्य व्यक्ति जागते हैं और कड़ी मेहनत करते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + 18 =

Back to top button