कोरोना से जंग: बढ़ते संक्रमण से चौकस हुआ रेलवे, अतिरिक्त को‍विड देखभाल डिब्बों को रवाना किया

रेल मंत्रालय कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में देश के विभिन्न स्थानों पर लगभग 4000 कोविड देखभाल डिब्‍बों को उपलब्ध कराया है जिनकी कुल क्षमता लगभग 64000 बिस्तरों की है। राज्यों को उनकी आवश्यकता के अनुरूप मदद करने और अपनी विभिन्न पहल को जारी रखने के क्रम में भारतीय रेलवे ने सत्‍ता के विकेंद्रीकरण की कार्य योजना शुरू की है जिसके अंतर्गत रेल मंडलों और रेल खंडों को और अधिकार दिए जा रहे हैं ताकि अपेक्षाओं को पूरा किया जा सके और विभिन्न समझौतों का अनुपालन हो सके। यह रेल डिब्बे आसानी से एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाए जा सकते हैं और मांग के अनुरूप रेलवे नेटवर्क पर कहीं भी उपलब्ध हो सकते हैं।

इसी क्रम में विभिन्न राज्यों की मांग पर अब तक कुल 191 रेल डिब्बे कोविड देखभाल केंद्र के रूप में उपलब्ध कराए गए हैं, जिनकी कुल बिस्तर क्षमता 2990 है। इस समय कोविड देखभाल डिब्बों का इस्तेमाल दिल्ली,महाराष्ट्र (अजनी, आईसीडी, नंदुरबार), मध्य प्रदेश (तीही, इंदौर के नजदीक) द्वारा किया जा रहा है। रेलवे ने 50 कोविड देखभाल डिब्बों को उत्तर प्रदेश में फैजाबाद,भदोही,वाराणसी, बरेली और नजीबाबाद में तैनात रखा है। महाराष्ट्र के नंदूरबार में उपलब्ध कोविड देखभाल डिब्बों को जिला प्रशासन की मांग पर पालघर स्थानांतरित किया जा रहा है। भारतीय रेलवे के आइसोलेशन डिब्बे मध्य प्रदेश के जबलपुर भी पहुंचाए जा रहे हैं।

विभिन्न राज्यों को भारतीय रेलवे द्वारा उपलब्ध कराए गए डिब्बों की ताजा स्थिति इस प्रकार है:

महाराष्ट्र के नंदुरबार में बीते 2 दिनों में 6 नए मरीजों को भर्ती किया गया जबकि अब तक 10 मरीजों को इन कोविड देखभाल डिब्बों से आइसोलेशन की अवधि पूर्ण होने के बाद छुट्टी दे दी गई। वर्तमान समय में 43 मरीज इस देखभाल सुविधा का लाभ प्राप्त कर रहे हैं। अब तक कुल 92 मरीजों को भर्ती किया गया जिनमें से राज्य स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा 57 मरीजों को छुट्टी दी गई। इस समय 314 बिस्तर उपलब्ध हैं।

दिल्ली में भारतीय रेलवे ने राज्य सरकार की कुल 75 कोविड देखभाल डिब्बों की मांग पूरी की जिनकी कुल क्षमता 1200 बिस्‍तरों की है। इनमें से 50 रेल डिब्बे शकूरबस्ती में जबकि 25 डिब्बे आनंद विहार रेलवे स्टेशन पर तैनात किए गए हैं। यहां अब तक कुल 4 मरीजों को भर्ती किया गया है और एक मरीज को छुट्टी दी गई। दिल्ली में इन देखभाल डिब्बों में 1196 बिस्तर उपलब्ध हैं।

मध्य प्रदेश राज्य सरकार की मांग के क्रम में पश्चिमी रेलवे की रतलाम डिवीजन ने इंदौर के करीब तीही में 22 कोविड देखभाल डिब्बे उपलब्ध कराएं हैं जिनकी कुल क्षमता 320 बिस्तरों की है। यहां अब तक 6 मरीजों को भर्ती किया गया। भोपाल में 20 देखभाल कोच उपलब्ध कराए गए जहां अब तक 20 संक्रमितों को दाखिल किया गया और चार लोगों को उपचार के बाद छुट्टी दी गई। यहां 276 बिस्तर अभी भी उपलब्ध हैं।

इन सभी राज्यों में अब तक उपलब्ध कराए गए कोविड देखभाल डिब्बों में कुल 123 लोगों को भर्ती किया गया जिनमें से 62 लोगों को छुट्टी दी गई। वर्तमान समय में इन स्थानों पर 61 मरीज इस सुविधा का लाभ प्राप्त कर रहे हैं। जबकि इन स्थानों पर 2929 बिस्तर उपयोग के लिए उपलब्ध हैं।

उत्तर प्रदेश में राज्य सरकार ने अब तक कोविड देखभाल डिब्बों की मांग नहीं की थी इसके बावजूद फैजाबाद, भदोही, वाराणसी, बरेली और नजीबाबाद में प्रत्येक स्थान पर 10-10 डिब्बे उपलब्ध कराए गए हैं। अतः इन 50 कोविड देखभाल डिब्‍बों की कुल क्षमता 800 बिस्तरों की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 − 2 =

Back to top button