कई खिलाड़ियों की किस्मत खुली है,सेलेक्टर्स ने टी20 वर्ल्ड कप से काट दिया पत्ता

टी20 वर्ल्ड कप 2021 का आगाज 17 अक्टूबर से UAE की धरती पर होने जा रहा है. ICC के इस मेगा इवेंट में भारत को खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है. सेलेक्टर्स ने इस बार कई नए चेहरों को टीम इंडिया में सेलेक्ट किया है. कई खिलाड़ियों की किस्मत खुली है, तो कइयों का दिल भी टूटा है. भारत के 4 खिलाड़ी ऐसे हैं, जो अपनी किस्मत हार बैठे और सेलेक्टर्स ने टी20 वर्ल्ड कप से उनका पत्ता काट दिया. आइए नजर डालते हैं इन 4 खिलाड़ियों पर  

पृथ्वी शॉ

ऋषभ पंत की तरह विस्फोटक बल्लेबाजी में माहिर टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को टी20 वर्ल्ड कप के लिए सेलेक्टर्स ने भाव तक नहीं दिया. टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में सेलेक्टर्स पृथ्वी शॉ को ओपनर के तौर पर मौका दे सकते थे. पृथ्वी शॉ का बल्ला इन दिनों खूब आग उगल रहा था. भारतीय क्रिकेट टीम में पृथ्वी शॉ को ओपनर के तौर पर टी-20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के लिए मजबूत दावेदार माना जा रहा था. 

पृथ्वी शॉ ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खराब प्रदर्शन के बाद विजय हजारे ट्रॉफी और आईपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे थे. एक तरह से उन्होंने बेखौफ बल्लेबाजी से अपना दावा काफी मजबूत कर लिया था, लेकिन उनका दिल सेलेक्टर्स ने तोड़ दिया. जरूरत पड़ने पर विराट कोहली भी रोहित शर्मा के साथ पारी की शुरुआत कर सकते हैं, जैसा कि भारतीय सरजमीं पर इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज में उन्होंने किया था.

देवदत्त पडिक्कल

आईपीएल में देवदत्त पडिक्कल RCB टीम की तरफ से विराट कोहली के साथ पारी की शुरुआत करते हैं. अब तक खेले गए 26 आईपीएल मैचों में उन्होंने 32.88 की औसत और 129.25 की स्ट्राइक रेट से 822 रन बनाए हैं. पडिक्कल के नाम 1 शतक और 6 अर्धशतक है. इस बेहतरीन रिकॉर्ड के बावजूद उन्हें ग्लोबल टूर्नामेंट से इग्नोर किया गया. देवदत्त पडिक्कल आईपीएल में अपनी बल्लेबाजी का लोहा मनवा चुके हैं, इसके बावजूद टी-20 वर्ल्ड कप  2021 के 15 सदस्यीय स्क्वाड में उनका नाम नहीं शामिल किया गया. देवदत्त पडिक्कल हाल ही में शिखर धवन की अगुवाई में श्रीलंका टूर पर गए थे. वो अपने अपने डेब्यू  टी-20 इंटरनेशनल मैच में 23 बॉल में 29 रन बनाकर आउट हुए, तभी उनकी टी-20 वर्ल्ड कप की उम्मीदों को तगड़ा झटका लग गया था.

चेतन सकारिया

टी20 वर्ल्ड कप के लिए सेलेक्टर्स ने चेतन सकारिया को भाव तक नहीं दिया. टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में चेतन सकारिया को मौका दिया जा सकता था. चेतन सकारिया के पास गेंदों को दोनों तरफ स्विंग कराने की काबिलियत है. ऐसे में ये गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार का टी-20 वर्ल्ड कप की टीम से पत्ता काट सकता था. आईपीएल 2021 में अच्छे प्रदर्शन के बाद चेतन सकारिया को भारतीय टीम में जगह मिली थी. आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलने वाले तेज गेंदबाज चेतन सकारिया को उनके पिता ने ऑटो-रिक्शॉ चलाकर खिलाड़ी बनाया था. सकारिया के घर की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं थी, इसलिए उनके पिता ने ये काम किया था. इसी साल कोरोना वायरस के चलते चेतन सकारिया के पिता का निधन हो गया था

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 − 15 =

Back to top button