उत्तराखंड की मुख्यमंत्री बदलने की चर्चा तेज, त्रिवेंद्र सिंह रावत दिल्ली हुए रवाना

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक गलियारे में अटकलों का बाजार गरमा गया है। प्रदेश  में मुख्यमंत्री बदलने की खबरें रफ्तार पकड़ रही हैं। माना जा रहा है कि बीजेपी बहुत जल्द प्रदेश में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की जगह किसी नए चेहरे को मुख्यमंत्री बना सकती है। भाजपा का पर्यवेक्षक बनाकर उत्तराखंड भेजे गए छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और बीजेपी के प्रदेश प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम के दिल्ली रवाना होने के साथ भाजपा के भीतर और सन्नाटा पसर गया है। पार्टी में मचे इस सियासी घमासान के बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत को बीजेपी आलाकमान ने तलब किया है।

प्रदेश में सियासी चर्चाओं का दौर लगातार जारी है। वहीं इन चर्चाओं की बीच मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सोमवार को दिल्ली रवाना हो गए। सोमवार को रावत के गैरसैंण और देहरादून में कई कार्यक्रम थे लेकिन दिल्ली से आए बुलावे के बाद उनके सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए। बताया जा रहा है कि मंत्रिमंडल विस्तार से लेकर प्रदेश भाजपा विधायकों में असंतोष की वजह से प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलों ने जोर पकड़ लिया। वहीं इन अटकलों पर बोलते हुए दिल्ली पहुंचे मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि “मैं नहीं जानता कि मीडिया पर क्या चल रहा है, लेकिन मैंने राष्ट्रीय पार्टी के नेतृत्व से मिलने का समय मांगा है।

इस मामले पर बोलते हुए बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि सब ठीक है। बंशीधर भगत ने नेतृत्व में किसी भी तरह के परिवर्तन से साफ इंकार कर दिया। मुख्यमंत्री रावत के दिल्ली बंशीधर भगत ने कहा कि मुख्यमंत्री सामान्य तौर पर दिल्ली गए है। पार्टी में कोई कलह नहीं है। कहा कि 2022 का चुनाव भी त्रिवेंद्र के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × two =

Back to top button